नोटिफिकेशन जारी:ऑनलाइन बिल जमा करवाने को बनानी होगी ईमेल, उपभोक्ताओं का विरोध- आईडी क्रिएट करना हर एक के बस की बात नहीं

जालंधरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पीएसपीसीएल की साइट पर पंजाब स्टेट इलेक्ट्रिसिटी रेगुलेटरी कमीशन के निर्देश - Dainik Bhaskar
पीएसपीसीएल की साइट पर पंजाब स्टेट इलेक्ट्रिसिटी रेगुलेटरी कमीशन के निर्देश
  • पीएसपीसीएल की साइट पर पंजाब स्टेट इलेक्ट्रिसिटी रेगुलेटरी कमीशन के निर्देश
  • अपना मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड करवाना तो ठीक है, लेकिन आगे जो प्रक्रिया बताई गई

पावरकाॅम के 5 लाख से अधिक उपभोक्ताओं को अब अपनी ईमेल आईडी तैयार करवानी होगी और मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड करवाना होगा। अगर उपभोक्ता अपना बिजली का बिल ऑनलाइन भरता है तो उसे पूरी वेरिफिकेशन से गुजरना होगा और उसके लिए दो ओटीपी उसके मोबाइल पर आएंगे। इसके बाद ही बिजली का बिल जमा हो पाएगा।

इस बात का विरोध वे उपभोक्ता कर रहे हैं, जिनके पास सोशल साइट्स पर जाने का साधन तक नहीं है और कई बार वे अपने बिजली के बिल गली मोहल्ले में खुली दुकानों पर जमा करवाते हैं और उन्हें ईमेल आईडी तैयार करवानी पड़ेगी। पंजाब स्टेट इलेक्ट्रिसिटी रेगुलेटरी कमीशन का नोटिफिकेशन पीएसपीसीएल की साइट पर दिखाया जा रहा है, जिसमें लिखा है कि उपभोक्ता का बिल तक तक नहीं लिया जाएगा, जब तक उपभोक्ता वेरिफिकेशन नहीं करवा लेता और ईमेल नहीं बनाता।

उपभोक्ताओं का विरोध- आईडी क्रिएट करना हर एक के बस की बात नहीं

बस्ती पीरदाद रोड निवासी सुरिंदरपाल सिंह ने बताया कि जब वे अपना बिजली का बिल ऑनलाइन जमा करवाने लगे तो पावरकाॅम की साइट पर नोटिफिकेशन दिखाई दे रहा है, लेकिन हर एक उपभोक्ता के लिए आईडी क्रिएट करना संभव नहीं है और बस की बात भी नहीं है। क्योंकि हर एक उपभोक्ता पढ़ा-लिखा नहीं है। आईडी क्रिएट करने के दौरान उपभोक्ता की प्राइवेसी भी विभाग के पास चली जाएगी। अपना मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड करवाना तो ठीक है, लेकिन आगे जो प्रक्रिया बताई गई है वे शायद ही उपभोक्ता पूरी हो सके।

पब्लिक स्पीक- सीक्रेसी लीक हो गई तो जिम्मेदार कौन होगा

भगत सिंह चौक निवासी प्रियंका ने कहा कि मोबाइल नंबर रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए कहा जा रहा है। उसी के बाद ऑनलाइन बिल जमा करवाया जा सकेगा। अगर लॉगइन आईडी बनाने पर सीक्रेसी लीक हो गई तो उसकी जिम्मेदारी कोई नहीं लेगा। इसके अलावा हमारे जनता में बड़ी गिनती ऐसे लोगों की है, जो हाईटेक नहीं हैं। इस फरमान से लोगों की परेशानी बढ़ जाएगी। गरीब या निरक्षर लोगों के लिए यह हर बार की दिक्कत खड़ी हो जाएगी। ऑनलाइन बिल जमा करवाने की कोशिश करने वाले विक्रांत ने बताया कि अगर यह कंडीशन लागू हो गई तो पब्लिक के लिए दिक्कत खड़ी हो जाएगी। पावरकॉम को चाहिए कि सेवा केंद्रों की तरह और ज्यादा फेसिलिटी दे न कि इस तरह की कंडीशन लगाकर लोगों को परेशान किया जाए।

खबरें और भी हैं...