जालंधर में बाउंसरों ने दुकानदार को पीटा:दुकान में घुसकर डंडे और रॉड से की पिटाई, छुड़ाने आए भतीजे पर दरात से किया हमला

जालंधरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
दुकानदार सरबजीत और उसका भतीजा अमन जिन्हें बाउंसरों ने घायल किया। - Dainik Bhaskar
दुकानदार सरबजीत और उसका भतीजा अमन जिन्हें बाउंसरों ने घायल किया।

पंजाब के जालंधर में खालसा स्कूल के पास एक दुकानदार को आज पांच-छह बाउंसरों जमकर पीटा। उन्होंने तेज हथियार से दुकानदार के सिर पर वार किए। यही नहीं दुकानदार को छुड़ाने आए उसके भतीजे पर भी बाउंसरों ने दरात से हमला किया। जिससे उसकी बाजू में चोट आई है। दुकानदार को सिविल अस्पताल में लाया गया, जहां उसका उपचार चल रहा है।

घायल दुकानदार सरबजीत सिंह निवासी आबादपुरा ने बताया कि वह रोजाना की तरह दुकान पर बैठा था। इसी दौरा पांच छह युवक उसकी दुकान पर आ धमके। उन्होंने बिना कुछ पूछे सीधे उसे पीटना शुरू कर दिया। हमलावरों के पास डंडे, रॉड और दरात थे। उन्होंने पहले डंडे व रॉड से पीटा और फिर सिर पर दरात से वार किए। इसे देख छुड़वाने के लिए उसका भतीजा अमन आया तो उसे भी हमलावरों ने दरात दे मारा, जो उसकी बाईं बाजू में लगा। बहरहाल अस्पताल प्रशासन ने दोनों घायलों की मेडिकल लीगल रिपोर्ट बना दी है और पुलिस को भी सूचित कर दिया है।

दुकानदार सरबजीत जिसके सिर पर तेजधार हथियार से वार किए गए।
दुकानदार सरबजीत जिसके सिर पर तेजधार हथियार से वार किए गए।

निजी अस्पतालों में बाउंसर बताए जा रहे हैं हमलावर

जिन पांच छह युवकों ने दुकानदार और उसके भतीजे पर हमला किया वह जालंधर के दो नामी अस्पतालों के बाउंसर बताए जा रहे हैं। दुकानदार ने बताया कि उसकी दो दिन पहले उसके ही मोहल्ले के रहने वाले अनिल कुमार लिल्ली से किसी बात को लेकर बहस हुई थी। आज वह अपने साथ बाउंसर लेकर आया और उस पर हमला कर दिया।

स्थानीय लोगों ने कहा- गुंडागर्दी करते हैं बाउंसर

स्थानीय लोगों ने बताया की जिन बाउंसरों ने हमला किया है वह पहले भी गुंडागर्दी को लेकर बदनाम हैं। इन बाउंसरों पर पहले भी मारपीट करने के मामले दर्ज हैं। लोगो का आरोप है की यह बाउंसर शहर के दो नामी अस्पतालों में काम करते हैं और इन्हें पुलिस का संरक्षण प्राप्त है।

खबरें और भी हैं...