घर-घर खुशियों के दीप, बाजारों पर धनवर्षा:565 करोड़ के कारोबार का अनुमान, सबसे ज्यादा 200 करोड़ की कॉस्मेटिक्स व गार्मेंट्स की मार्केट

जालंधरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • ज्यूलरी, फैशन वियर, डेकोरेशन और क्राकरी-गिफ्टिंग की मार्केट को खूब मिले ग्राहक

नराते ते दिवाली दा सीजन शानदार रेहा... दुकानदारां की उम्मीद तों वद विकरी होई ते कोई अजेहा सेल्समैन नहीं, जिस नूं मालक ने खुश न कीता होवे... ऐसी प्रतिक्रिया सिटी के पुराने दुकानदारों की रही। उन्होंने बताया कि रिटेल बिक्री में पिछली दिवाली के मुकाबले 40 फीसदी तक इजाफा हुआ है। अगर जिले की मार्केट की बात करें तो करीब 565 करोड़ के कारोबार का अनुमान है। सबसे ज्यादा 200 करोड़ कॉस्मेटिक्स व गार्मेंट की मार्केट रही। वहीं, इलेक्ट्रॉनिक्स मार्केट, गिफ्ट आइटम्स का बाजार काफी तेज रहा। इसी बीच कुटीर उद्योगों द्वारा बनाए सजावट के सामान, लोकल कंपनियों की क्रॉकरी आदि की खूब बिक्री हुई है।

वहीं, ऑटो बाजार में 1975 के करीब कारें अक्टूबर में बुक हुईं, जोकि दिवाली तक डिलीवर की गई। वहीं, तीन हजार से ज्यादा टू व्हीलर बिके हैं। फैशन वियर मार्केट से सुखविंदर सिंह ने कहा- दिवाली पर सर्दी के सीजन की शुरुआत हो गई। अभी लोग सेमी वार्म सेगमेंट के कपड़े आदि खरीद रहे हैं। इसमें ड्रेसेज के अलावा कंबल, गर्म चादरें, तकिया कवर शामिल रहे हैं।

अक्टूबर के दूसरे हफ्ते से दिखा लोगों में भारी उत्साह

फगवाड़ा गेट, रैनक बाजार, भैरों बाजार, मीना बाजार, पीर बोदला बाजार के कारोबारियों ने कहा कि अक्टूबर के दूसरे हफ्ते से बिक्री बढ़ी। लोगों ने चाइना मेड की बजाय लोकल बल्ब, लाइटें खरीदीं। कारोबारी अमित सहगल ने कहा कि पिछली दिवाली के मुकाबले इस बार 40% तक बिक्री ज्यादा हुई है। संजीव गुप्ता कहते हैं- इस बार लोगों ने बिजली की बजाय मिट्टी के दीये ज्यादा खरीदे। लोग कुम्हारों को काम देना चाहते थे।

1975 कारें और 3000 से ज्यादा टू व्हीलर बिके

नवरात्र से लेकर दिवाली तक जालंधरियों ने 1975 कारें खरीदी हैं, जबकि 3 हजार से ज्यादा टू व्हीलर बिके। ऑटो बाजार में प्रबंधक अमित शर्मा कहते हैं- इस बार डिलीवरी तक देने में दिक्कत खड़ी हो गई। सरकार ने चीन से एक सेमी कंडक्टर के इंपोर्ट पर रोक लगा दी है। अब कंपनियां इसे ताईवान से मंगवा रही हैं, जहां से डिमांड के मुकाबले सप्लाई कम है। फेस्टिवल सीजन में करीब 4000 कारों की बुकिंग थी, लेकिन 1975 के करीब की डिलीवरी कर दी है।

खबरें और भी हैं...