जालंधर में पहली कार्रवाई:नाइट कर्फ्यू में खुले शराब ठेके पर FIR, पुलिस को देख कारिंदा फरार

जालंधर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शराब ठेकों के खिलाफ अक्सर पुलिस का नरम रवैया रहता है। - प्रतीकात्मक फोटो - Dainik Bhaskar
शराब ठेकों के खिलाफ अक्सर पुलिस का नरम रवैया रहता है। - प्रतीकात्मक फोटो

कोरोना संक्रमण रोकने के लिए लगाए नाइट कर्फ्यू के दौरान खुले शराब ठेके पर पुलिस ने पहली कार्रवाई की है। जालंधर की गदईपुर मार्केट में केवल हलवाई के पास खुले ठेके पर यह कार्रवाई की गई है। यह ठेका रात करीब 8 बजे खुला हुआ था। हालांकि जब पुलिस वहां पहुंची तो कारिंदा फरार हो गया। फिलहाल पुलिस ने आरोपी कारिंदे पर जिला मजिस्ट्रेट के आदेश का उल्लंघन करने का केस दर्ज कर लिया है।

फोकल प्वाइंट चौकी के हेड कांस्टेबल बलवंत सिंह के मुताबिक उनकी टीम फोकल प्वाइंट के परफेक्ट चौक के पास गश्त कर रही थी। तब उन्हें सूचना मिली कि रात 8 बजे गदईपुर मार्केट का शराब ठेका खुला हुआ है। पंजाब सरकार के आदेश के मुताबिक शाम 6 बजे से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू है।

इस दौरान जरूरी सेवाओं को छोड़कर सभी तरह की दुकानें शाम 5 बजे बंद करनी अनिवार्य है। पुलिस वहां पहुंची तो शराब ठेके का कारिंदा रोहित शर्मा निवासी मकसूदां पटेल नगर भाग निकला। फोकल प्वाइंट चौकी इंचार्ज मदन सिंह ने कहा कि कारिंदा उस वक्त भाग निकला लेकिन पुलिस उसकी तलाश कर रही है। जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

सरकार से लेकर पुलिस की होती है आलोचना

शराब ठेके के मामले में अक्सर सरकार से लेकर पुलिस तक आलोचना होती है। शराब ठेके नाइट कर्फ्यू में भी खुले रहते हैं लेकिन पुलिस उन पर सख्ती नहीं बरतती। ठेके बंद करने के बाद भी चोरी-छिपे शराब बिक्री जारी रहती है। हालांकि कमिश्नरेट पुलिस की ठेकों के खिलाफ यह कार्रवाई अब शराब ठेकेदार लॉबी के दबाव के आगे भी जारी रहेगी या नहीं, यह देखना दिलचस्प रहेगा।

खबरें और भी हैं...