जालंधर में फर्जी वोटिंग:गीतांजलि की वोट डाल गई हरप्रीत कौर, पोलिंग एजेंट के एतराज के बाद FIR

जालंधरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
किसी दूसरे की वोट डालने का केस दर्ज करने के बाद अब पुलिस ने हरप्रीत कौर के खिलाफ जांच शुरू कर दी है। - प्रतीकात्मक फोटो - Dainik Bhaskar
किसी दूसरे की वोट डालने का केस दर्ज करने के बाद अब पुलिस ने हरप्रीत कौर के खिलाफ जांच शुरू कर दी है। - प्रतीकात्मक फोटो
  • नूरमहल के वार्ड 3 का मामला, PRO ने दर्ज करवाई पुलिस को शिकायत

निकाय चुनाव के लिए वोटिंग खत्म होने के बाद फर्जी वोटिंग के मामले खुलने लगे हैं। ऐसा ही मामला नूरमहल में उजागर हुआ है। जहां एक महिला किसी दूसरी महिला की जगह पर वोट डालकर आ गई। इसका पता तब चला, जब पोलिंग एजेंट ने एतराज जताया। जिसके बाद मौके पर पुलिस बुलाई गई। अब पुलिस ने फर्जी वोट डालने वाली महिला हरप्रीत कौर के खिलाफ IPC की धारा 171-F के तहत केस दर्ज कर लिया है।

आधार कार्ड व वोटर कार्ड का ब्यौरा मेल खाता था तो वोट डलवा दी : PRO

फगवाड़ा के अर्बन एस्टेट शालीमार गार्डन में रहने वाले भूपिंदर सिंह ने बताया कि वह विर्क के सरकारी स्कूल में मुख्य अध्यापक हैं। रविवार को बतौर प्रिजाइडिंग अफसर (PRO) उनकी ड्यूटी नूरमहल के वार्ड 3 में लगी हुई थी। रविवार दोपहर करीब 4 बजे एक औरत वोट डालने आई। उसका नाम हरप्रीत कौर पत्नी सतविंदर सिंह निवासी नजदीक गुरुद्वारा साहिब तेली नूरमहल था। पोलिंग एजेंट सोनिया भोगल ने उसकी शिनाख्त सही करके उनके पास भेज दिया। फिर उन्होंने वोटर सूची में दर्ज गीतांजलि नाम की औरत को सही मानते हुए उससे वोट डलवा दी। उक्त हरप्रीत कौर के दिखाए आधार कार्ड व वोटर कार्ड और गीतांजलि का वोटर कार्ड ब्यौरा आपस में मेल खाता था।

पोलिंग एजेंट ने कहा, वह गीतांजलि नहीं बल्कि हरप्रीत कौर थी

हरप्रीत कौर से वोट डलवाने के बाद पोलिंग एजेंट सोनिया भोगल ने लिखित तौर पर एतराज किया गया कि वह औरत गीतांजलि नहीं बल्कि हरप्रीत कौर थी। जिसकी उसने तस्दीक भी हरप्रीत कौर के तौर पर की थी। इससे पता चला कि हरप्रीत कौर ने गीतांजलि की जगह वोट डाल दी।

जालंधर की रहने वाली हरप्रीत, नूरमहल में किराएदार

हरप्रीत कौर के बारे में जांच की गई तो पता चला कि उसके पति का नाम सतविंदर सिंह है। वह जालंधर शहर में बस्ती दानिशमंदा की रहने वाली है। जो अब नूरमहल में गुरुद्वारा साहिब तेली के नजदीक सरोज रानी की किराएदार है।