अब जालंधर में शराब ठेके का विरोध:गोल्डन एवेन्यू फेस-2 में महिलाओं ने किया प्रदर्शन, बोलीं- घर से निकलना मुश्किल हो जाएगा

जालंधर4 महीने पहले

पंजाब में होशियारपुर के मुकेरियां में महिलाओं के शराब ठेके पर धावे के बाद अब जालंधर शहर में भी महिलाओं ने नए खुले शराब के ठेके का जमकर विरोध किया। जालंधर के गोल्डन एवेन्यू फेस-2 में रात के समय महिलाओं ने इकट्ठे होकर मार्केट में खुले ठेके और अहाते के बाहर प्रदर्शन किया और सरकार व प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

महिलाओं के कहना है कि जहां पर शराब के ठेका खोला गया है, वहां पर आसपास लोगों के घर हैं। घरों में महिलाओं से लेकर बेटियां रहती हैं और रोज स्कूल कॉलेज से आती-जाती हैं। शाम को सब्जी से लेकर अन्य खरीददारी के लिए भी जाती हैं। यदि शराब का ठेका यहां पर खुलेगा तो उन्हें परेशानी होगी।

ठेके के दुष्प्रभावों बारे बताती महिला सतवीर कौर
ठेके के दुष्प्रभावों बारे बताती महिला सतवीर कौर

कुछ महिलाओं का कहना था कि उनके बच्चे छोटे-छोटे हैं। शराब का ठेका यहां पर खोल दिए जाने से उनके बच्चों पर गलत असर पड़ेगा। वैसे भी पंजाब की जवानी को नशा लील चुका है। शहर में नशे के आदी लोग आए दिन अपने नशे की पूर्ति के लिए लूट, छीना झपटी से लेकर चोरी की वारदातों को अंजाम दे रहे हैं। महिलाओं ने कहा कि वह शराब का ठेका खुलने के बाद अपनी लोकेलिटी की खराब नहीं करना चाहती।

महिला सतवीर कौर जो कि इस प्रदर्शन को लीड कर रही थी ने कहा कि जिस स्थान पर ठेका और अहाता खोला गया है वहां से एकमात्र रास्ता गोल्डन एवन्यू फेस-2 के मोहल्ले को जाता है। वहां पर रात-रातभर महफिलें जमीं रहेंगी तो महिलाओं का घर से निकलना मुश्किल हो जाएगा। उन्होंने कहा कि घर से महिलाएं रात को सैर के लिए भी निकलती हैं यदि रास्ते में शराबी बैठे होंगे तो वह कैसे जाएंगी।