हरभजन सिंह को राज्यसभा भेज सकती है आप:स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी की कमान सौंपने की भी तैयारी, 3 महीने पहले सिद्धू के साथ फोटो वायरल हुई थी

जालंधर3 महीने पहले

पूर्व क्रिकेटर हरभजन सिंह एक बार फिर चर्चा में आ गए हैं। कहा जा रहा है कि पंजाब की भगवंत मान सरकार भज्जी को कोई बड़ी जिम्मेदारी दे सकती है। सचिवालय के गलियारों और पार्टी के मुख्यालय से जो बातें बाहर निकल कर आ रही हैं, उनके अनुसार भज्जी को एक नहीं बल्कि दो-दो जिम्मेदारी सौंपी जा रही है। सूची में नाम सबसे ऊपर होने का मतलब सीधा-सीधा है कि सरकार की प्राथमिकता में हरभजन सिंह सबसे ऊपर हैं।

पता चला है कि भज्जी को पंजाब में स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी की जिम्मेदारी देने के साथ-साथ राज्यसभा में भी भेजा सकता है। यह भी पता चला है कि आम आदमी पार्टी खेल के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान देने वाले खिलाड़ियों को राज्यसभा में भेज रही है। इसके लिए जो सूची तैयार की गई है, उसमें हरभजन सिंह का नाम सबसे ऊपर है। हालांकि अभी तक इसकी पार्टी की तरफ से या फिर सरकार की ओर से आधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है।

नवजोत सिद्धू के साथ हरभजन सिंह यह फोटो वायरल हुई थी, जिसके बाद भज्जी के राजनीति में आने की चर्चा शुरू हो गई थी।
नवजोत सिद्धू के साथ हरभजन सिंह यह फोटो वायरल हुई थी, जिसके बाद भज्जी के राजनीति में आने की चर्चा शुरू हो गई थी।

सिद्धू के साथ वायरल हुई थी फोटो
भज्जी ने जब क्रिकेट से संन्यास लिया था, तब उनकी फोटो नवजोत सिंह सिद्धू के साथ वायरल हुई थी। उनके कांग्रेस में जाने की अफवाहें फैली थीं, लेकिन उन्हें नकारते हुए कहा था कि फिलहाल वह राजनीति में नहीं जा रहे हैं। लेकिन उन्होंने यह भी कहा था कि खेल के क्षेत्र में पिछड़ रहे पंजाब को दोबारा फिर से उसी पुराने स्वरूप में लाने के लिए वह भविष्य में राजनीति में आने के बारे में सोच सकते हैं। राजनीति में आने का विकल्प उनके समक्ष खुला रहेगा।

3 महीने पहले लिया था संन्यास
तीन महीने पहले हरभजन सिंह ने इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लिया था। 23 साल तक क्रिकेट की दुनिया में ‘टर्बनेटर’ नाम से मशहूर भज्जी संन्यास लेने के बाद सीधे जालंधर के बर्ल्टन पार्क आए थे, क्योंकि यहीं से उन्होंने क्रिकेट करियर की शुरुआत की थी। इसी मैदान से भज्जी ने खेलना शुरू किया था और पूरी दुनिया में देश और पंजाब का नाम रोशन किया था।

राज्यसभा में 5 सदस्यों का होना है चयन
पंजाब में राज्यसभा के 5 सदस्यों का कार्यकाल पूरा होने जा रहा है। अब नए सदस्यों के चयन के लिए भी प्रक्रिया शुरू हो गई है। पंजाब से राज्यसभा की पांचों सीटों के लिए दो बार चुनाव होगा। पहले चरण में तीन सीटों के लिए विधायक मतदान करेंगे और दो सीटों के लिए बाद में मतदान होगा। इस बार विधानसभा में 117 में से 92 विधायक आम आदमी पार्टी के हैं और तय है कि सभी सदस्य उन्हीं के मर्जी के राज्यसभा में जाएंगे।

खबरें और भी हैं...