पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ट्रैप:भोगपुर में किसान दोस्त के साथ लग्जरी गाड़ी लूटने आया था केएलएफ से जुड़े बिल्ला मंडियाला का साथी गोरा

जालंधर10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • प्रोडक्शन वारंट पर लाएगी पुलिस; 8 मई को कपूरथला पुलिस की गिरफ्त में आया बिल्ला मंडियाला

भोगपुर में सोमवार रात ट्रैप लगाकर असलहा की खेप के साथ पकड़े गए 27 साल के गुरप्रीत सिंह गोरा और 30 साल के जरमनजीत सिंह को तीन दिन के रिमांड पर लिया गया है। इनसे बरामद असलहा पाकिस्तान से आया था। आठ मई को कपूरथला पुलिस की गिरफ्त में आए खालिस्तान लिबरेशन फोर्स (केएलएफ) से जुड़े मोस्ट वांटेड गैंगस्टर बलजिंदर उर्फ बिल्ला मंडियाला का गुरप्रीत गोरा करीबी साथी है।

पुलिस जल्द जेल में बंद बिल्ला मंडियाला को प्रोडक्शन वारंट पर लेकर आएगी ताकि फिरोजपुर सीमा से राज्य में आए असलहा तस्करी का पूरा नेटवर्क ब्रेक किया जा सके। कपूरथला पुलिस की जांच में भी गोरा का नाम सामने आया था, मगर पुलिस उसे पकड़ न सकी। गोरा ने माना कि उसके साथ पकड़ा गया किसान जरमनजीत सिंह उसका दोस्त है।

उस पर 14 क्रिमिनल केस दर्ज हैं, जिनमें वह 13 में भगोड़ा है। वह जरमन की कार में ही आता जाता था। उसकी वरना कार अब कंडम होने लगी थी। इसलिए पठानकोट रोड पर बड़ी गाड़ी लूटने के इरादे से वह आया था। लॉकडाउन को लेकर एसपी सरबजीत सिंह, एसएचओ जरनैल सिंह और सीआईए स्टाफ के इंचार्ज शिव कुमार भोगपुर एरिया में चेकिंग पर थे। इस बीच सूचना मिलने पर तरनतारन के गांव जवंदपुर के जरमनजीत सिंह और गांव बरियाड़ के गुरप्रीत सिंह गोरा को पकड़ लिया।

गोरा बोला- गांव में लड़ाई ने बना दिया किसान से गुंडा

गोरा ने माना कि वह गुंडा नहीं था। गांव में एक लड़ाई ने उसे गुंडा बना दिया। वह तो पिता संग खेती करता था। बिल्ला मंडियाला से उसकी दोस्ती थी। बिल्ला के तार पाकिस्तान में बैठे तस्कर मिर्जा और अहद दीन से जुड़े हैं। बिल्ला केएलएफ से जुड़ा है। वह फिरोजपुर सीमा से पाक से आने वाली असलहा राज्य में संगठन से जुड़े लोगों को देता था। कुछ महीने पहले आई खेप में से बरामद किए हथियार उसे दिए थे। रिवाल्वर और पिस्टल खुद के पास रख कर बाकी नहर में पानी की पाइप में छुपा दिए थे। 8 मई को उसे पता चला कि बिल्ला पकड़ा गया है तो वह गुरदासपुर से भाग निकला था।

जरमनजीत ने माना कि वह दोस्ती के चलते गोरा की हर मदद करता था
जरमनजीत ने माना कि वह शादीशुदा है और पेशे से किसान है। दोस्ती के नाते वह गोरा के छुपने से लेकर हर काम में मदद करता था। गोरा को वह अपनी कार में लेकर जाता था। कार चल-चलकर खराब हो चुकी है। गोरा ने उसे कहा था बिल्ला के पकड़ में आने के बाद पुलिस सक्रिय हो गई है। वरना कार हमें अब धोखा देने लगी है। इसलिए वह गोरा के साथ होशियारपुर से भोगपुर पहुंच गए थे।

गोरा ने उससे कहा था कि पहले वह गाड़ी का पीछा करेगा। सुनसान जगह पर गाड़ी को घेर लेंगे। पुलिस को यह भी पता चला है कि गोरा जान से मारने की धमकी देकर वसूली करता था। पुलिस यह पता लगा रही है कि उसे पीडित लोग कौन-कौन हैं? पुलिस यह भी पता कर रही है कि गोरा ने असलहा की सप्लाई कहां-कहां की है। बिल्ला ने तब माना था कि असलहा की खेप गोरा के पास है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - कुछ समय से चल रही किसी दुविधा और बेचैनी से आज राहत मिलेगी। आध्यात्मिक और धार्मिक गतिविधियों में कुछ समय व्यतीत करना आपको पॉजिटिव बनाएगा। कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती है इसीलिए किसी भी फोन क...

    और पढ़ें