पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • In Case Of Hospital Or Army Area, Approval Is Required From The Center For The Cut On The Highway, People Made 10 Cuts In 21 Km On The Instigation Of The Leaders.

अवैध कट को कहें न:अस्पताल या आर्मी एरिया होने पर हाईवे पर कट के लिए केंद्र से लेनी पड़ती है मंजूरी, यहां नेताओं की शह पर लोगों ने 21 किमी में 10 कट बना दिए

जालंधर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जालंधर-अमृतसर नेशनल हाईवे पर होने वाले सड़क हादसों के 60 फीसदी मामलों में जान-माल की हानि हुई है।
  • दकोहा, परागपुर, कालिया काॅलोनी और भगत सिंह कॉलोनी के सामने सबसे खतरनाक कट
  • लोग अंडरपास का इस्तेमाल न कर अपनी जिंदगी दांव पर लगा रहे
  • 48 घंटे में बंद कराएंगे कालिया कॉलोनी वाला कट : एनएचएआई

परागपुर से लेकर विधिपुर तक 21 किलोमीटर के दायरे में नेताओं की शह पर कुछ लोगों ने हाईवे पर 10 अवैध कट बना लिए हैं। नतीजा यह है कि हादसों में कई लोगों की जान जा रही है। दकोहा, परागपुर, कालिया काॅलोनी और भगत सिंह कॉलोनी के नजदीक इंडस्ट्रियल एरिया में बनाए गए अवैध कट सबसे ज्यादा खतरनाक हैं। पीडब्ल्यूडी की कंस्ट्रक्शन डिवीजन से तीन साल पहले रिटायर हुए एक्सईएन परमजीत सिंह ने छोटे से रेडियस में 10 अवैध कट पर कहा कि हाईवे पर अस्पताल, आर्मी एरिया, इंडस्ट्रियल जोन या किसी और बड़े कारण से कट जरूरी हो तो एनएचएआई को दिल्ली से इजाजत लेनी पड़ती है। यहां पर लोग अंडरपास का इस्तेमाल न कर 500 मीटर का रास्ता बचाने के लिए अपनी जिंदगी दांव लगा रहे हैं।

दूसरी ओर हाईवे बनाने वाली सोमा रोडीज कंपनी के इंजीनियर हितेश धवन ने कहा कि अवैध कट का मामला गंभीर है और कालिया कॉलोनी का कट एक-दो दिन में बंद करवा दिया जाएगा। कालिया कॉलोनी नहर के दोनों तरफ 2 लाख से ज्यादा की आबादी है और इंडस्ट्री जोन है। सुबह और शाम वक्त आने-जाने वाले लोग अवैध कट से रोड क्रॉस करते हैं।

गाइडलाइंस के मुताबिक इंडस्ट्रियल जोन में फुट ओवर ब्रिज बनाना जरूरी
पूर्व एक्सईएन परमजीत सिंह ने बताया कि एनएचएआई की गाइडलाइंस के मुताबिक हाईवे पर तब तक कट नहीं दिया जा सकता, जब तक शहर नहीं आ जाता है। लिंक रोड से हाईवे के एंट्री और एक्जिट पॉइंट को अगर जोड़ना है तो 300 मीटर पीछे से सरल ढंग से जोड़ा जाना चाहिए। ये नहीं होना चाहिए कि एकदम से कट दे दिया जाए।

कालिया कॉलोनी नहर से गुजरती मेन हाईवे पर खुले डिवाइडर को एनएचएआई न्यू जर्सी बैरियर या मेटल क्रॉस बीम बैरियर लगाकर बंद कर सकता है। इसके बाद दोपहिया वाहन चालकों और लोग गलत ढंग से रोड क्रॉस नहीं करेंगे। दकोहा और परागपुर के सामने जो कट हैं, वो बिल्कुल गलत है। अगर लोग विरोध करके दोबारा इन्हें खुलवाते हैं तो खुद अपनी जान के दुश्मन बन रहे हैं। रामामंडी और धन्नोवाली की तरफ जाने के लिए 500 मीटर के फासले पर फ्लाईओवर के नीचे अंडरपास है। लोग इस रास्ते का इस्तेमाल करें ताकि हादसे कम हों।

रिपोर्ट : थाना-1, 8, रामामंडी के एरिया में हुए हादसों में 75% मौतें
ट्रैफिक एडवाइजरी की रिपोर्ट देखी जाए तो सड़क हादसों में 60 फीसदी मौतें नेशनल हाईवे पर हुई हैं। लुधियाना-अमृतसर हाईवे पर 2016 में 124, 2017 में 110 और 2018 में 109 मौतें हुई। ये दूसरे राज्यों के मौतों के आंकड़ों से ज्यादा है। हाईवे पर थाना डिवीजन 1, डिवीजन 8, रामामंडी, जालंधर कैंट और सदर के अधीन आते एरिया में हुए हादसों में 75 फीसदी मौतें हुई हैं। अब लॉकडाउन के कारण मौतों का ग्राफ कुछ कम हुआ है, लेकिन आने वाले दिनों में अवैध कटों का हल नहीं निकाला तो ग्राफ दोबारा से वहीं आ जाएगा।

इन ब्लैक स्पॉट पर सबसे ज्यादा हादसे और मौतें
जालंधर में तैनात ट्रैफिक इंजीनियर कर्णदीप सिंह के मुताबिक फेयर फार्म, वेरका मिल्क प्लांट अंडरपास, भगत सिंह कॉलोनी वाई पॉइंट, कालिया कॉलोनी, पठानकोट चौक, लम्मा पिंड टी पॉइंट, सुच्ची पिंड, चौगिट्‌टी फ्लाईओवर, पीएपी चौक, रामामंडी चौक, दकोहा फाटक, मोदी रिसोर्ट के सामने हाईवे, धन्नोवाली रोड, गढ़ा रोड, चुनमुन चौक, अवतार नगर, शीतल नगर मकसूदां, टैगोर अस्पताल, जिंदा रोड और रेरू गेट ब्लैक स्पॉट हैं। इस जगहों पर हादसों में सबसे ज्यादा लोगों की मौतें हुई हैं।

सियासी लोग दोबारा खुलवा देते हैं अवैध कट
सोमा रोडीज के इंजीनियर हितेश धवन ने बताया कि दकोहा, परागपुर और कालिया कॉलोनी वाला अवैध कट कई बार बंद किए गए पर राजनीतिक लोग धरना-प्रदर्शन कर अवैध कट दोबारा खुलवा लेते हैं। कालिया कॉलोनी वाला अवैध कट बंद करवाया जाएगा। टू व्हीलर चालक रोड क्रॉस न करे, इसके लिए पक्के बैरियर लगवाए जाएंगे।
मंगलवार, वीरवार और शनिवार की शाम सबसे ज्यादा हादसे...ट्रैफिक एडवाइजरी कमेटी की रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है कि इंडस्ट्रियल एरिया में बनाए गए अवैध कट लोगों के लिए जानलेवा साबित हो रहे हैं। मंगलवार, वीरवार और शनिवार की शाम सबसे ज्यादा हादसे होते हैं। इन तीन दिनों के दौरान श्रमिक फैक्ट्रियों से वापसी के दौरान हादसों में जान गंवा रहे हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय की गति आपके पक्ष में हैं। आपकी मेहनत और आत्मविश्वास की वजह से सफलता आपके नजदीक रहेगी। सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा तथा आपका उदारवादी रुख आपके लिए सम्मान दायक रहेगा। कोई बड़ा निवेश भी करने के लिए...

और पढ़ें