• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • In Punjab, The Police Officer Broke The Protocol, The DSP Of Bathinda Police Stood On The Cot On Which CM Channi Was Talking To The Farmers.

पंजाब में पुलिस अफसर ने तोड़ा प्रोटोकॉल:जिस चारपाई पर बैठकर CM चन्नी किसानों से कर रहे थे बात, उसी पर पैर रखकर खड़ा रहा बठिंडा पुलिस का DSP

जालंधर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कैप्टन अमरिंदर सिंह पर सरकार में ब्यूरोक्रेसी को हावी करने के आरोप लगते रहे।चरणजीत चन्नी के CM बनने के बाद अफसरों का रवैया बरकरार है।यहां तक कि एक पुलिस अफसर ने तो प्रोटोकॉल ही तोड़ दिया।CM चन्नी बठिंडा दौरे के दौरान चारपाई पर बैठकर किसानों से बात कर रहे थे और एक DSP उसी पर पैर रखकर खड़ा रहा।वीडियो सामने आने के बाद ये पूरा मामला अब चर्चा में है।पुलिस अफसरों का कहना है कि DSP थके हुए थे।बड़ा सवाल ये है कि क्या पंजाब के नए कार्यकारी DGP इकबालप्रीत सिंह सहोता प्रोटोकॉल तोड़ने वाले अफसर पर कोई एक्शन लेंगे?

CM चरणजीत चन्नी रविवार को बठिंडा में कपास की खराब फसल का जायजा लेने गए थे। इसके बाद वह गांव मंडी कलां पहुंचे।जहां CM ने किसान आंदोलन में जान गंवाने वाले खेत मजदूर सुखपाल सिंह के बड़े भाई नत्था सिंह को नियुक्ति पत्र सौंपा।उन्होंने अफसरों को उसका घर बनाने में जरूरी मदद भी देने को कहा।

DSP ने कहा- चारपाई एक साइड से उठी हुई थी

इस बारे में DSP गुरजीत रोमाणा का भी पक्ष सामने आया है। उन्होंने कहा कि जिस चारपाई पर CM बैठे थे, वो एक तरफ से उठी हुई थी। इस वजह से उन्होंने उसे दबाए रखने के लिए पैर रख लिया था।

गांव वाले कर रहे थे पुलिस की शिकायत
जिस वक्त DSP ने चारपाई पर पैर रखा, CM चन्नी किसानों की शिकायत सुन रहे थे। ग्रामीणों का आरोप था कि गांव में सरेआम नशे का सामान बिक रहा है। जिससे कई युवकों की मौत हो चुकी है।CM ने पुलिस अफसरों को बुलाकर कहा कि किसी के साथ कोई रियायत नहीं करनी है।जो भी नशा बेचता है, उसके खिलाफ कार्रवाई करो।CM ने यह भी चेतावनी दी कि इस मामले में वो पुलिस अफसरों की नहीं बल्कि गांव के लोगों की बात सुनेंगे।उस वक्त बड़े अफसर सर-सर करते रहे लेकिन DSP पैर रखकर खड़ा रहा।

किसान के घर लंच करते CM चरणजीत सिंह चन्नी।
किसान के घर लंच करते CM चरणजीत सिंह चन्नी।

CM ने किसान के घर ही किया लंच
CM चरणजीत चन्नी ने नत्था सिंह के घर पहुंचकर उन्हें नियुक्ति पत्र सौंपा। इसके बाद उनके ही घर में लंच भी किया था। इस मौके डिप्टी CM सुखजिंदर रंधावा भी उनके साथ रहे। इससे पहले एक किसान बलजिंदर सिंह ने खूब भड़ास निकाली। उसका कहना था कि उनकी फसल के मुआवजे के पैसे अफसर खा जाते हैं।

गांव में लोगों से बात करते CM चरणजीत चन्नी।
गांव में लोगों से बात करते CM चरणजीत चन्नी।

विरोधी हमेशा बनाते थे कैप्टन को निशाना
कैप्टन अमरिंदर सिंह CM रहते ब्यूरोक्रेसी की वजह से हमेशा विरोधियों के निशाने पर रहे।विरोधी पार्टियों से ज्यादा कांग्रेस के नेता ही यह आरोप लगाते रहे। उनका कहना था कि उनकी ही सरकार होने के बावजूद अफसर उनकी कोई सुनवाई नहीं करते। उन्हें अफसर अपने ऑफिस में जलील करते हैं।नवजोत सिद्धू ने जब पंजाब कांग्रेस की प्रधानी संभाली तो भी यह वादा किया था कि कांग्रेसी वर्करों को पूरा सम्मान मिलेगा।हालांकि इस तस्वीर के सामने आने के बाद अब सवाल उठने लगे हैं।जो अफसर CM को कुछ नहीं समझ रहे, वो आम लोगों की क्या सुनेंगे।

खबरें और भी हैं...