पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • In Search Of The Manager Of Delhi Company In The Case Of Drug Possession Of Three And A Half Crores, Many Places Including Ludhiana, Delhi Raid

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नशे का कारोबार:साढ़े तीन करोड़ की नशीली दवाएं पकड़ने के मामले में दिल्ली कंपनी केे मैनेजर की तलाश में लुधियाना, दिल्ली सहित कई जगह रेड

जालंधरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

करोड़ों की नशीली दवाओं का पंजाब सहित कई राज्यों में सप्लाई करने वाले दिल्ली की बड़ी मेडिकल कंपनी केे मैनेजर विकास बांसल की गिरफ्तारी को लेकर थाना-8 की पुलिस और सीआईए की टीमों ने दिल्ली, लुधियाना सहित पंजाब, हरियाणा में कई ठिकानों पर रेड की। हालांकि आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। वहीं पहले से गिरफ्तार आरोपी लुधियाना के रहने वालेे सन्नी और जोशी नगर के रहने वाले पीयूष अरोड़ा का चार दिन का रिमांड खत्म होने पर पुलिस ने आरोपियों को कोर्ट में पेश कर पांच दिन का और रिमांड हासिल किया है।

आरोपी पीयूष दिल्ली की कंपनी में था एमआर, 2 आरोपी 5 दिन के रिमांड पर

थाना-8 के एसएचओ कमलजीत सिंह ने बताया कि आरोपियों के लिंक दिल्ली और हरियाणा की कई बड़ी कंपनियों से निकले हैं। इसलिए सन्नी और पीयूष अरोड़ा का पुलिस ने रिमांड बढ़ाने की मांग की थी। फरार आरोपी विकास बांसल दिल्ली में एक बड़ी मेडिकल कंपनी में मैनेजर था और पीयूष अरोड़ा उसी की कंपनी में एमआर था।

मैनेजर विकास दिल्ली से कंपनी का नाम लेकर अपनी दवाएं पंजाब हरियाणा और अन्य राज्यों में सप्लाई करता था और सप्लाई देने के लिए लुधियाना के रहने वालेे सन्नी और जोशी नगर के रहने वाले पीयूष अरोड़ा जाते थे। एसएचओ ने बताया कि आरोपी दिल्ली की जिस फर्म में काम करते थे, उस फर्म की भूमिका अभी तक क्लियर नहीं हो पाई है।

हालांकि पुलिस ने जांच में शामिल होने के लिए कंपनी के मालिकों से भी संपर्क कर सकती है। बता दें कि थाना-8 की पुलिस द्वारा 14 अक्टूबर को लुधियाना के रहने वालेे सन्नी और जोशी नगर के रहने वाले पीयूष अरोड़ा गिरफ्तार किया गया था। तस्करों से पूछताछ मेें पुलिस को करीब 13.50 लाख नशीली गोलियां, कैप्सूल, इंजेक्शन, सिरप मिले थे। बरामद दवाओं की मार्केट वैल्यू करीब 3.50 करोड़ रुपए थी।

इस मामलेे में 17 अक्टूबर को एसीपी (क्राइम अगेंस्ट वूमन) धर्मपाल, सीआईए इंचार्ज अश्विनी कुमार थाना-8 के एसएचओ कमलजीत सिंह की एक टीम ने लुधियाना के चेत सिंह नगर में रात को आरोपी पीयूष की निशानदेही पर रेड की थी। 18 अक्टूबर को जालंधर कमिश्नरेट पुलिस ने लुधियाना के ड्रग विभाग को सारेे मामलेे की जांच में शामिल होने के लिए पत्र भेजा गया था। जहां उस दिन जोनल लाइसेंसिंग अथॉरिटी कुलविंदर सिंह, ड्रग इंस्पेक्टर रूपप्रीत कौर, संदीप कौशिक, अमित, लखनपाल, रविंद्र कुमार और गुरप्रीत सिंह सोढी की देख रेख में सारे मामले की जांच की गई।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- दिन उन्नतिकारक है। आपकी प्रतिभा व योग्यता के अनुरूप आपको अपने कार्यों के उचित परिणाम प्राप्त होंगे। कामकाज व कैरियर को महत्व देंगे परंतु पहली प्राथमिकता आपकी परिवार ही रहेगी। संतान के विवाह क...

और पढ़ें