• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Amarinder Singh Vs Navjot Singh Sidhu; Punjab Former Chief Minister Says Mujhe Koi Fark Nahi Padta | Punjab Congress Political Crisis

आर-पार की लड़ाई के मूड में कैप्टन:अमरिंदर सिंह बोले- सिद्धू पंजाब कांग्रेस के प्रधान हैं तो पार्टी से निकाल दें, इससे मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता

जालंधरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब में तख्तापलट के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह आर-पार की लड़ाई के मूड में दिख रहे हैं। कैप्टन ने अब नवजोत सिद्धू को मूर्ख, जोकर और ड्रामेबाज तक कह दिया है। पार्टी प्रधान होने के बावजूद कैप्टन सिद्धू के खिलाफ बयानबाजी कर रहे हैं। कैप्टन कहते हैं कि सिद्धू राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा हैं। सिद्धू पार्टी के प्रदेश प्रधान हैं, इससे मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता। अगर ऐसा है तो वे मुझे कांग्रेस पार्टी से निकाल दें।

हालांकि, इस पूरे विवाद पर अभी तक नवजोत सिद्धू ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। कैप्टन अपनी बात पर डटे हुए हैं कि सिद्धू एंटी नेशनल हैं। कैप्टन ने कहा कि कश्मीर बॉर्डर पर हमारे सैकड़ों जवान शहीद होते हैं। जख्मी होते हैं। जो आर्मी चीफ हमारे जवानों को मारने का हुक्म देता है, वह सिद्धू का दोस्त है। पाक PM इमरान खान से उसकी दोस्ती है। ऐसे तो मेरी भी जान-पहचान है, लेकिन मैं किसी से नहीं मिलता। राष्ट्रीय सुरक्षा से ऊपर मेरे लिए कुछ नहीं।

गुरदासपुर और बठिंडा नहीं जिता सके सिद्धू, सिर्फ भीड़ इकट्‌ठी कर सकते हैं
कैप्टन अमरिंदर ने कहा कि सिद्धू ड्रामा करके लोगों को इकट्‌ठा कर सकते हैं। वे भीड़ इकट्‌ठी कर सकते हैं, लेकिन वोट नहीं ला सकते। लोकसभा चुनाव में सिद्धू को बठिंडा और गुरदासपुर की जिम्मेदारी दी थी। दोनों जगह सिद्धू ने प्रचार किया। दोनों ही सीटें कांग्रेस हार गई। सिद्धू हारें या जीतें, मैं उसका विरोध करूंगा। जो एक मिनिस्ट्री नहीं चला पाया, वह पूरा पंजाब क्या चलाएगा?

सिद्धू की पत्नी का कैप्टन पर पलटवार
नवजोत सिद्धू के बचाव में उनकी पत्नी नवजोत कौर सिद्धू आगे आई हैं। उन्होंने कहा कि अगर सिद्धू देशद्रोही हैं तो उन्हें अंदर करवा दो। जो राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा है, उसे मंत्री क्यों बनाया? अपने साथ क्यों रखा?। कैप्टन को कांग्रेस हाईकमान का काम पसंद नहीं तो पार्टी छोड़ दें। मुझे भी अकाली दल पसंद नहीं था तो मैंने छोड़ दिया।

कैप्टन को यह बातें शोभा नहीं देती: परगट सिंह
सिद्धू के करीबी विधायक परगट सिंह ने कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह को इस तरह की बातें शोभा नहीं देती। वह पार्टी के बड़े लीडर रहे हैं और हैं। समय होता है, जब हम समय को नहीं भांपते, उसके साथ नहीं चलते तो वह हमसे अलग हो जाता है। परगट सिंह ने कैप्टन के खिलाफ हुई बगावत की अगुवाई की थी। वह पिछले काफी समय से पंजाब के मुद्दे हल न होने की बात कहकर कैप्टन के खिलाफ मोर्चा खोलते रहे हैं।

विधायक गुरकीरत कोटली ने कहा कि आज जब कैप्टन CM नहीं रहे तो उन्हें इस तरह की बात नहीं कहनी चाहिए। कांग्रेस पार्टी ने उन्हें बहुत सम्मान दिया है।
विधायक गुरकीरत कोटली ने कहा कि आज जब कैप्टन CM नहीं रहे तो उन्हें इस तरह की बात नहीं कहनी चाहिए। कांग्रेस पार्टी ने उन्हें बहुत सम्मान दिया है।

विधायक कोटली बोले- कैप्टन को पार्टी ने CM बनाया
मंत्री पद की दौड़ में शामिल विधायक गुरकीरत कोटली ने कहा कि कैप्टन ने सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के साथ काम किया है। आज जब कैप्टन CM नहीं रहे तो उन्हें इस तरह की बात नहीं कहनी चाहिए। कांग्रेस पार्टी ने उन्हें बहुत सम्मान दिया है। उन्हें मुख्यमंत्री बनाया है। विधायक कोटली लुधियाना से कांग्रेस सांसद रवनीत बिट्‌टू के चचेरे भाई हैं।

खबरें और भी हैं...