• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • In The Name Of Getting Settled Abroad, 3600 Brides Looted 150 Crores, NRIs In Punjab And Cases Of Cheating Coming In Police Stations

पंजाब में कॉन्ट्रैक्ट मैरिज का खतरनाक ट्रेंड:विदेश में बसाने के नाम पर 3600 दुल्हनों ने 5 साल में लड़के वालों से 150 करोड़ ठगे, विदेश जाकर मुकर जाती थीं

चंडीगढ़ /जालंधर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

विदेश में बसने की चाहत रखने वाले 3,600 पंजाबी लड़के फर्जी शादियों का शिकार होकर 5 सालों में 150 करोड़ रुपए गवां चुके हैं। ऐसी 3,300 से ज्यादा शिकायतें विदेश मंत्रालय में आई हैं। इसमें से 3,000 सिर्फ पंजाब की हैं। पिछले 6 महीने में विभाग के पास धोखाधड़ी के 200 मामले आए हैं।

पंजाब में कॉन्ट्रैक्ट मैरिज कर विदेश जाने की चाहत रखने वाले युवाओं की संख्या बढ़ती जा रही है। हर दिन औसतन 2 लड़के ठगे जा रहे हैं। लड़के को विदेश भेजने की इच्छा रखने वाले परिवार ऐसी पंजाबी लड़की ढूंढते हैं, जिसने आइलेट्स एग्जाम पास कर लिया हो। इसके बाद लड़के वाले पैसे लगाकर लड़की को विदेश पढ़ने भेजते हैं। इसके बाद लड़की किसी तरह ग्रीन कार्ड हासिल कर लेती है। ज्यादातर मामलों में लड़की या तो लड़के को कभी विदेश नहीं बुलाती या फिर विदेश में ही बैठकर तलाक की मांग करती है। आइए समझते हैं किस तरह चलता है ये फर्जी शादी का रैकेट।

5 पॉइंट में समझिए मैरिज एग्रीमेंट में क्या लिखा होता है ?
1. वर पक्ष और वधु पक्ष की सहमति से लड़के और लड़की की शादी हो रही है।
2. लड़की ने आईलेट्स किया है और वह विदेश जाने वाली है।
3. विदेश भेजने के लिए वर पक्ष, वधु पक्ष पर 25 से लेकर 40 लाख रु. खर्च करता है।
4. इसमें वीजा फीस, इंस्टीट्यूशन फीस और सिक्योरिटी मनी भी शामिल होती है।
5. इसमें शर्त होती है कि विदेश पहुंचने के बाद लड़की लड़के को वहां बुला लेगी।

पंजाब में आइलेट्स पास करने वाली युवतियों की काफी डिमांड है।
पंजाब में आइलेट्स पास करने वाली युवतियों की काफी डिमांड है।

आइलेट्स एग्जाम क्या है?
आइलेट्स का फुल फॉर्म इंटरनेशनल इंग्लिश लैंग्वेज टेस्ट सिस्टम है। ये एक तरह का टेस्ट होता है। जिन देशों में इंग्लिश कम्युनिकेशन की मुख्य भाषा है, वहां की यूनिवर्सिटी में दाखिले के लिए आइलेट्स एग्जाम लिया जाता है। ऐसे देशों में अमेरिका, कनाडा, न्यूजीलैंड, यूके और ऑस्ट्रेलिया के अलावा कई और देश शामिल हैं। इस टेस्ट में कैंडिडेट की अंग्रेजी बोलने, सुनने और लिखने की स्किल को परखा जाता है।

बड़े परिवारों के लड़कों को फंसाया जाता है

  • गांव में एजेंट कम पढ़े-लिखे परिवारों को बताते हैं कि वह ऐसी लड़की को जानते हैं, जो आईलेट्स पास है, लेकिन उसकी स्टडी, वीजा आदि का खर्च देना होगा।
  • 3 महीने में लुधियाना में 30, जालंधर में 70 मामले कॉन्ट्रैक्ट मैरिज के बाद धोखे के दर्ज हुए हैं। पंजाब में 6 माह में ही 300 मामले आए हैं।

इस तरह आसान लगता है विदेश जाना

स्पाउस वीजा: लड़कियों के सहारे स्पाउस वीजा पर विदेश जाया जा सकता है। लड़की के आईलेट्स में 7 बैंड होते हैं। इसके जरिए लड़के को विदेश में सेटल करना आसान होता है।

ग्रीन कार्ड: न्यूजीलैंड बड़ी तादाद में पंजाबी लड़कियां स्टूडेंट हैं। इनके पास ग्रीन कार्ड है। इनसे शादी करने के लिए लड़कों की लाइन लगी रहती है। पंजाब में कुछ एजेंट डील करवाते हैं।

लुटेरी दुल्हनों की 5 कहानियां

1. जालंधर के SI रघुवीर सिंह बेटे गुरविंदर सिंह की शादी परनीत से हुई। लड़की के विदेश जाने का खर्च एसआई के परिवार ने उठाया। 23 लाख खर्च कर बहू को विदेश भेजने के बाद उसने फोन उठाना ही बंद कर दिया और बाद में तलाक मांगने लगी।

2. संगरूर जिले के गांव फलेड़ा के गुरजीवन सिंह की शादी 22 दिसंबर 2019 को ठिंडा के गांव नाथपुरा की रहने वाली प्रभजोत कौर के साथ हुई। उसे कनाडा भेजने में गुरजीवन ने 30.41 लाख रुपए खर्च किए, लेकिन कनाडा जाने के बाद प्रभजोत ने गुरजीवन को बुलाने से इनकार कर दिया।

3. फतेहगढ़ साहिब जिले के मंडी गोविंदगढ़ मनजीत सिंह के बेटे की शादी खमाणों की रहने वाली किरण से हुई। उसे कनाडा भेजने में 13 लाख रुपए मनजीत ने खर्च किए और कनाडा जाने के बाद उसने कहा कि ये शादी एक ड्रामा थी।

4. मोगा के भूपिंदर सिंह की शादी पवनदीप कौर से हुई। 30 लाख रुपए खर्च कर उसे कनाडा भेजा गया। उसके इनकार करने के बाद भूपिंदर मानसिक तौर पर बीमार हो गया और उसके इलाज पर 40 हजार रुपए खर्च हुए।

5. 25 लाख खर्च किए, कनाडा पहुंचने के बाद 10 लाख और मांगे

जालंधर के गोराया का निवासी मनदीप सिंह कनाडा सेटल होना चाहता था। गांव ढड्‌डा के तीर्थ सिंह की आईलेट्स पास बेटी प्रदीप कौर से 9 सितंबर 2019 को कॉन्ट्रैक्ट मैरिज हुई। 25 लाख खर्च हुए। फिर प्रदीप कौर कनाडा चली गई और वहां से 10 लाख रुपए और मांगे।

डिपोर्ट करने का नियम बने, ताकि सख्त कार्रवाई हो

पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट की वकील दलजीत कौर ने बताया कि पंजाब में हर दिन कॉन्ट्रैक्ट मैरिज में धोखाधाड़ी होने की शिकायतें आ रही हैं, जिनमें लड़कियां विदेश में सेटल होने के लिए लड़कों से धोखा कर रही हैं और पुलिस केवल इन मामलों में आईपीसी की धारा 420 और 120 के तहत की धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर रही है, लेकिन असल में यह केवल धोखाधड़ी का मामला नहीं है। इसमें संबंधित लड़कों के परिवार वाले आर्थिक, सामाजिक और मानसिक प्रताड़ना झेलते हैं। लड़की के परिवार वाले धोखाधड़ी का पूरा ड्रामा लड़की के विदेश पहुंचने के बाद करते हैं। इसके बाद लड़कियां लड़के को तलाक देने की बात करती हैं। ऐसे मामलों में पुलिस कार्रवाई नहीं कर पाती, क्योंकि आरोपी विदेश में सेटल हो जाती हैं। शिकायतकर्ता केवल इंतजार करता रहता है। इसलिए मौजूदा कानून में बदलाव की जरूरत है, ऐसे आरोपियों को डिपोर्ट करने का नियम बने, ताकि सख्त कार्रवाई हो।

खबरें और भी हैं...