• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Issues Will Not Be Resolved In A Day's Session Of The Vidhan Sabha; Punjab Government Should Immediately Cancel The Wrong Agreement And Give Cheap Electricity

नवजोत सिद्धू का कैप्टन अमरिंदर सिंह पर हमला:बोले- पंजाब विधानसभा के एक दिन के सेशन में मुद्दे हल नहीं होंगे, SYL की तरह कानून बना बिजली समझौते रद्द करे सरकार

जालंधरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नवजाेत सिद्धू। - Dainik Bhaskar
नवजाेत सिद्धू।

पंजाब कांग्रेस प्रधान नवजोत सिद्धू ने अब विधानसभा सेशन को लेकर मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह पर हमला किया है। सिद्धू ने सोमवार सुबह कहा कि विधानसभा के एक दिन के सेशन से मुद्दे हल नहीं होंगे। इसे कम से कम 5 से 7 दिन का किया जाए।

सिद्धू ने कैप्टन पर तंज कसा कि श्री गुरु तेग बहादुर जी के 400 साला प्रकाशोत्सव को समर्पित एक दिन के सेशन की वह तारीफ करते हैं, लेकिन उन्हें सरबत के भले की विचारधारा को नहीं भूलना चाहिए। सबका भला करने वाले मुद्दे हल किए जाने चाहिए।

सिद्धू ने कहा कि पंजाब सरकार पंजाब राज्य बिजली रेगुलेटरी कमीशन को ऑर्डर जारी करें कि वह बिजली एक्ट 2003 के तहत कम रेट पर बिजली खरीदे। इससे पंजाब सरकार को सीधे 50 हजार करोड़ की बचत होगी। वहीं, लोगों को तत्काल डेढ़ से 2 रुपए सस्ती बिजली मिलेगी।

कैप्टन को दिलाई SYL स्टैंड की याद
सिद्धू ने कैप्टन अमरिंदर सिंह को सतलुज-युमना लिंक (SYL) नहर के टर्मिनेशन कानून की याद दिलाते हुए कहा कि उसी तरह सख्त कदम उठाएं और कानून लाकर गलत बिजली समझौते (PPA) सिरे से रद्द किए जाएं। यह बात इसलिए अहम है क्योंकि कैप्टन ने हाल ही में पावरकॉम को सभी प्राइवेट थर्मल प्लांटों को महंगी बिजली व जरूरत के वक्त आपूर्ति न होने पर नोटिस जारी करने की मंजूरी दी है।

दिल्ली सरकार पर निशाना, लेकिन उन्हीं के मुद्दे उठाए
सिद्धू ने दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार पर भी निशाना साधा। केजरीवाल द्वारा हर घर को 300 यूनिट बिजली मुफ्त देने पर सिद्धू ने कहा कि पंजाब बिजली को लेकर किसान, SC, BC व फ्रीडम फाइटरों को 10 हजार करोड़ की सब्सिडी देता है। जितनी मुफ्त है, उतनी दी जाती है। एक यूनिट ज्यादा हुई तो पूरा बिल देना पड़ेगा। पंजाब 25 फीसदी बिजली खुद पैदा करता है, जबकि दिल्ली इस मामले में जीरो है। सिद्धू ने अलग से फंड रखकर गरीब परिवारों के अधिक बिजली बिल भी माफ करने की मांग की। केजरीवाल ने अपनी पहली गारंटी में पंजाब से यही वायदा किया था।

कैप्टन के पुराने वीडियो भी ट्वीट किए
सिद्धू ने कैप्टन अमरिंदर सिंह के 2017 में विस चुनाव से पहले के कई वीडियो को एक साथ जोड़कर ट्वीट किया है। जिसमें कैप्टन पंजाब में घरेलू उपभोक्ताओं को 3 रुपए और इंडस्ट्रियल को 5 रुपए प्रति यूनिट बिजली बिल का वादा कर रहे हैं। हालांकि सत्ता मिलने के 4.5 साल बीतने के बाद भी कैप्टन ऐसा कोई काम नहीं कर सके।

खबरें और भी हैं...