पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Jalandhar's Private Hospitals, Which Did Not Treat Despite Being Injured By Bullets, Increased The Difficulties, DC Formed An Inquiry Committee, Sought Report In 3 Days

करियाना स्टोर मालिक की हत्या का मामला:गोली से जख्मी होने के बावजूद इलाज न करने वाले जालंधर के प्राइवेट अस्पतालों की मुश्किलें बढ़ी, DC ने बनाई जांच कमेटी, 3 दिन में रिपोर्ट मांगी

जालंधर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
DC घनश्याम थोरी से मिलते जैन सभा के सदस्य। - Dainik Bhaskar
DC घनश्याम थोरी से मिलते जैन सभा के सदस्य।

सोढ़ल रोड पर मथुरा नगर में जैन करियाना स्टोर मालिक सचिन जैन की गोली मार हत्या के मामले में प्राइवेट अस्पतालों की मुश्किलें बढ़ गई हैं। सचिन को जख्मी हालत में दोस्त एक्टिवा पर इन अस्पतालों के चक्कर काटते रहे लेकिन पुलिस केस कहकर इलाज नहीं किया गया। इस बारे में जैन समुदाय के मिलने पर DC घनश्याम थोरी ने इसके लिए 3 मेंबरी जांच कमेटी बना दी है। जिसमें सहायक कमिश्नर रणदीप सिंह गिल, DMC डॉ. ज्योति शर्मा और सहायक सिविल सर्जन डॉ. वरिंदर थिंद को मेंबर रखा गया है। कमेटी को 3 दिन के भीतर रिपोर्ट देने के आदेश दिए गए हैं। जिसमें कमेटी यह भी देखेगी कि जख्मी मरीज को अस्पताल लाने पर क्या इन अस्पतालों ने इस बारे में सुप्रीम कोर्ट व हाईकोर्ट के जारी आदेशों का पालन किया या नहीं। कमेटी से इस बारे में भी सुझाव देने को कहा गया है कि आगे से इस तरह की घटना को कैसे रोका जाए?।

मृतक करियाना स्टोर मालिक सचिन जैन
मृतक करियाना स्टोर मालिक सचिन जैन

करीब 45 मिनट तक जख्मी सचिन को लेकर भटके दोस्त, इलाज में देरी की वजह से मौत का आरोप

सचिन को लुटेरों ने गोली मार दी थी। इसका पता चलते ही दोस्त उनकी जान बचाने के लिए एक्टिवा पर बिठाकर 4 प्राइवेट अस्पतालों में ले गए। दोस्तों का आरोप था कि पुलिस केस कहकर अस्पताल में उन्हें भर्ती कर इलाज नहीं किया गया। उन्हें पहले सिविल अस्पताल और फिर वहां से रेफर कर लाने को कहा गया। इसके चक्कर में 45 मिनट बर्बाद हो गए। जिसके बाद सिविल से रेफर कराया गया लेकिन अगली सुबह सचिन की मौत हो गई। परिवार के लोगों के साथ जैन समुदाय के लोग भी आ गए। उन्होंने बीती रात कपूरथला चौक पर ट्रैफिक जाम कर प्रदर्शन करते हुए अस्पतालों पर कार्रवाई की मांग की थी। इसके बाद SS जैन सभा के प्रधान सतपाल जैन की अगुवाई में गुरुवार को परिजन DC से मिले थे।

पुलिस भी अभी तक सभी आरोपी नहीं पकड़ सकी, दुकानदारों में भी रोष

पुलिस का कहना है कि सचिन जैन को 19 जुलाई की रात अर्शप्रीत सिंह उर्फ वड्‌डा प्रीत, दीपक व साहिल ने गोली मारी। आरोपी उससे रुपए लूटने आए थे लेकिन हाथापाई हुई तो उसे गाेली मार दी गई। पुलिस दीपक को अरेस्ट कर चुकी है लेकिन बाकी दोनों आरोपी अभी फरार हैं। जिले में इस वारदात से सहमे दुकानदारों ने भी बुधवार को प्रदर्शन करते हुए जालंधर में कानून-व्यवस्था चौपट होने का आरोप लगाया था।

खबरें और भी हैं...