पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बिजली विभाग की कार्रवाई:बिजली चोरी मामले में जेई और 3 लाइनमैन सस्पेंड, बिजनेसमैन पर लगा 27 लाख रुपए जुर्माना

जालंधरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • लुधियाना की घटना- एंटी थेफ्ट थाने के एसएचओ और कांस्टेबल भी बदले

पावरकॉम इंफोर्समेंट विंग-3 जालंधर की टीम ने पिछले महीनों लुधियाना के गार्मेंट्स मेन्यूफेक्चरिंग कंपनी पर छापेमारी करके बड़ी बिजली चोरी पकड़ी थी। जिस पर आगे की विभागीय कार्रवाई करते हुए चीफ इंजीनियर जालंधर इंफोर्समेंट विंग जसबीर सिंह भुल्लर ने बताया कि इस चोरी में फोकल पाॅइंट डिवीजन में काम कर रहे बिजली विभाग के अधिकारियों, जिनमें 1 जेई और 3 लाइनमैन की शमूलियत के चलते उन्हें सस्पेंड किया गया है।

बिजली चोरी करने वाले बिजनेसमैन को 27 लाख रुपए जुर्माना लगाया गया है। इंफोर्समेंट की टीम ने जब इस मामले की तफतीश की तो पता चला कि इसमें पावरकॉम के अधिकारियों की मिलीभगत है। इससे लाखों रुपए की बिजली चोरी हो रही है। इसके अलावा सीएमडी पीएसपीसीएल ए वेनू प्रसाद ने लुधियाना एंटी पावर थैफ्ट थाने के एसएचओ और कांस्टेबल को भी शिफ्ट करने के लिए कहा गया है। पावरकाॅम के जिन अधिकारियों को सस्पेंड किया गया है, उनमें जेई जोगिंदर पाल, लाइनमैन सुखविंदर सिंह, नरिंदर सिंह, नत्थू राम लाइनमैन हैं। एसएचओ करतार सिंह व कांस्टेबल अशोक कुमार शामिल हैं।

ट्रांसफार्मर से फैक्ट्री तक डाली थी डायरेक्ट कुंडी
गौरतलब है कि महावीर जैन काॅलोनी फोकल पाॅइंट, लुधियाना में गारमेंट्स कंपनी ने ट्रांसफार्मर से अपनी फैक्ट्री तक डायरेक्ट कुंडी डाली हुई थी और 45 किलोवाट का इस्तेमाल कर रहे थे। छापेमारी के दौरान मौके पर ही केबल भी पकड़ी गई थी। इस मामले में बिजली एक्ट 2003 धारा 135 के तहत मामला दर्ज किया गया था।

खबरें और भी हैं...