पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना से जंग:जालंधर में मतदान की तरह वैक्सीनेशन के बूथ, BLO डोर टू डोर जाकर कहेंगे- 45 साल से ज्यादा उम्र ताे वैक्सीन लगवाएं

जालंधर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बूथ लेवल वैक्सीनेशन के लिए अफसरों से बैठक करते DC घनश्याम थोरी। - Dainik Bhaskar
बूथ लेवल वैक्सीनेशन के लिए अफसरों से बैठक करते DC घनश्याम थोरी।

जिले में लगातार फैल रहे कोरोना संक्रमण को वैक्सीनेशन से मात देने की कोशिश की जा रही है। जालंधर जिले में अब मतदान की तरह बूथ स्तर पर वैक्सीनेशन कैंप लगेंगे। जिस दौरान बूथ लेवल अफसर(BLO) डोर टू डोर जाकर कहेंगे कि अगर आपकी उम्र 45 साल से अधिक है तो बूथ में आकर वैक्सीन लगवाएं। यही नहीं, किस घर में कितने लोग किस उम्र के हैं, इसकी सूची भी BLO के पास रहती है, ऐसे में वैक्सीन के लाभार्थियों को तलाशकर वैक्शीनेशन सेंटर तक लाना आसान रहेगा। DC घनश्याम थोरी का कहना है कि हमारा मकसद अप्रैल महीने के भीतर 45 साल की उम्र से बड़े सभी लोगों को कोविड का टीका लगाना है।

जिले में 1,866 बूथ, मतदान कर्मियों की जगह स्वास्थ्य कर्मी

जिले में मतदान के लिहाज से 1866 पोलिंग बूथ हैं। इन्हीं सब बूथों पर वैक्सीन का कैंप लगेगा। मतदान केंद्र में जैसे मतदान कर्मचारी होते हैं तो यहां पर स्वास्थ्य कर्मी रहेंगे। जो आधार कार्ड या अन्य सरकारी I CARD से आपकी उम्र का सबूत देखेंगे और फिर कोविड का टीका लगाएंगे। कोविड वैक्सीन लगने के बाद वहीं पर आपको आधे घंटे के लिए आब्जर्वेशन में रखा जाएगा। यह प्रक्रिया इसलिए कामयाब हो सकती है क्योंकि बूथ लोगों के घरों के नजदीक होता है। ऐसे में वहां पहुंचना लोगों के लिए बहुत आसान रहेगा।

मोबाइल टीकाकरण वैन भी

वैक्सीनेशन का पूरा टारगेट हासिल करने के लिए जिले में 30 मोबाइल टीकाकरण वैन भी चालू कर दी गई हैं। यह वैन डोर टू डोर जाकर देखेंगी कि 45 साल से ज्यादा उम्र के ऐसे कौन से लोग हैं, जिनकाे कोविड वैक्सीन नहीं लगी। वहीं पर उनकी उम्र का सबूत देखा जाएगा और कोविड का टीका लगा दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...