अनूठी पहल:वैक्सीनेशन के लिए बनाएं वीडियो, डीसी आपके साथ चाय पीएंगे

जालंधर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जिला प्रशासन द्वारा चाय पर चर्चा को लेकर जारी की गई गाइडलाइंस। - Dainik Bhaskar
जिला प्रशासन द्वारा चाय पर चर्चा को लेकर जारी की गई गाइडलाइंस।

जिले में कोरोना मरीजों की निरंतर बढ़ रही संख्या से चिंतित जिला प्रशासन ने कोविड-19 वैक्सीन लगवाने को लेकर अनूठी पहल की है। एक साल के अनुभव को देखते हुए कोविड के प्रति आम लोगों को जागरूक करने के लिए प्रशासन ने वीडियो कंपीटिशन शुरू किया है। इसमें बेस्ट वीडियो बनाने वाले के साथ डीसी घनश्याम थोरी खुद चाय पीएंगे और कोविड को लेकर उसके विचारों को आम लोगों के साथ साझा करेंगे। इसके साथ ही वीडियोज को जिला प्रशासन व जिला लोक संपर्क अफसर (डीपीआरओ) के फेसबुक पेज पर अपलोड किया जाएगा, बेहतर परफार्मेंस देने वालों को स्वतंत्रता दिवस समारोह के मौके पर सम्मानित किया जाएगा।

जिक्रयोग है कि 15 मार्च 2020 को कोरोना वायरस के मद्देनजर शासन स्तर पर अधिकारियों की पहली मीटिंग हुई थी, जिसमें कोरोना को लेकर व्यापक चर्चा हुई थी। अब एक साल पूरा होने पर हालात फिर से खराब होने की आशंका के चलते प्रशासन की ओर से आम लोगों में जागरूकता फैलाने को लेकर नई पहल की गई है।

ताकि 45 से 60 साल के लोग हो सकें प्रेरित

कोविड वैक्सीनेशन के प्रति लोगों को प्रेरित करने वाला यह वीडियो तकरीबन 90 सेकंड का होगा। वीडियो का सब्जेक्ट लोगों को वैक्सीन लगवाने के प्रति जागरूक करने वाला होना चाहिए। खासकर, 60 साल से ज्यादा उम्र के बुजुर्ग और 45 से 59 साल के कोमोरबिड मरीजों को इसके बारे में जागरूक करना होगा। यह इसलिए क्योंकि अभी कोविड वैक्सीन इन्हें ही लगाई जा रही है। दरअसल कंपीटिशन का उद्देश्य है कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को जागरूक किया जा सके और इसमें आगे आने वालों को आजादी दिवस समागम के दौरान सम्मानित भी किया जाएगा।

9815448759 पर अपलोड करें वीडियो
कंपीटिशन में हिस्सा लेने के लिए जिला प्रशासन की ओर से व्हाट्सएप नंबर जारी किया गया है। लोगों को वीडियो बनाकर व्हाट्सएप नंबर 98154-48759 पर भेजना होगा। वीडियो भेजने वाले को अपना ब्यौरा भी इसमें देना होगा ताकि कंपीटिशन में शामिल करने और सिलेक्ट होने के बाद डीसी के साथ चाय पर बुलाया जा सके। इस दौरान कोविड-19 के संबंध में चर्चा भी की जाएगी और जिला प्रशासन की तरफ से वीडियो सोशल साइट्स पर अपलोड भी किया जाएगा।

कोरोना पर रोक के लिए लोग आगे आएं
डिप्टी कमिश्नर ने रविवार को कहा कि कोविड वैक्सीन के द्वारा ही वायरस को फैलने से रोका जा सकता है, लेकिन यह लोगों के सहयोग से ही संभव हो सकता है। कोविड वैक्सीन लाभपात्रियों तक आसानी से पहुंचाने के लिए जिला प्रशासन की तरफ से बड़े स्तर पर पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। डिप्टी कमिश्नर ने आगे बताया कि जिला प्रशासन की तरफ से पहले ही सैंपल लेने और कोविड प्रभावित व्यक्तियों के संपर्क में आए लोगों की पहचान करने की गति काफी तेज की जा चुकी है।

खबरें और भी हैं...