कांग्रेस की ‘पंजाब दा भविख' में यूथ से चर्चा:सिद्धू, परगट और अलका पहुंचे जालंधर के KMV, कहा-पंजाब में नई शिक्षा नीति जल्द

जालंधर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब में 3 महीने बाद होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर कांग्रेस ने ‘पंजाब दा भविख’ (हिंदी में कहें तो पंजाब का भविष्य) कार्यक्रम शुरू किया है। इसी कड़ी में शनिवार को जालंधर के कन्या महाविद्यालय (KMV) में आयोजित प्रोग्राम में पंजाब कांग्रेस प्रधान नवजोत सिद्धू, शिक्षामंत्री परगट सिंह के अलावा कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता अलका लांबा, अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव कृष्णा अलावरू और पंजाब प्रदेश कांग्रेस महासचिव गौतम सेठ छात्राओं से रूबरू हुए। इस दौरान छात्राओं से पढ़ाई और उनकी दूसरी दिक्कतों पर बातचीत की गई।

‘पंजाब दा भविख’ कार्यक्रम में पार्टी नेता युवाओं से संवाद करेंगे। साथ ही स्टूडेंट्स को कांग्रेस को रीति-नीति और विचारधारा के बारे में भी बताया जाएगा। जालंधर के KMV में आयोजित प्रोग्राम में एक छात्रा ने परगट सिंह से पूछा कि शिक्षा का स्तर सुधारने या फिर शिक्षा को व्यवहारिक बनाने के लिए कोई बदलाव किया जा रहा है? इस पर परगट सिंह ने कहा कि सरकार ने नई शिक्षा नीति बना ली है जो व्यवहारिक होने के साथ-साथ व्यावसायिक भी होगी। इसे शिक्षाविदों और उयोगपतियों के साथ मिलकर बनाया गया है ताकि पढ़ने वाला पढ़ाई पूरी करते ही काम धंधा करने लगे।

पंजाब दा भविख कार्यक्रम में बच्चों से चर्चा करते नवजोत सिद्धू।
पंजाब दा भविख कार्यक्रम में बच्चों से चर्चा करते नवजोत सिद्धू।

परगट सिंह के अनुसार, बहुत सारे उद्योगपति कहते हैं कि उनके पास काम करने वाले अच्छे लोगों का कमी है। दूसरी ओर पढ़े-लिखे लिखे लोग कहते हैं कि उनके पास रोजगार नहीं है। इसका सीधा मतलब है कि हमारी शिक्षण प्रणाली में कहीं ना कहीं गैप है। इसी समस्या के निवारण के लिए नई शिक्षा नीति बनाई गई है जिसे जल्दी ही लागू किया जाएगा।

आज महिलाएं हर काम कर रहीं

प्रोग्राम में नई दिल्ली से ताल्लुक रखने वाली कांग्रेस प्रवक्ता अलका लांबा ने कहा कि भारत की नारी कमजोर नहीं है। वर्तमान में महिलाएं वो सबकुछ कर रही है जिनपर कभी पुरुषों का एकाधिकार हुआ करता था। राहिल गांधी की सराहना करते हुए अलका ने कहा कि पिछले दिनों राहुल गांधी से पूछा गया कि यदि वह प्रधानमंत्री बने तो पहला काम क्या करेंगे? इस पर राहुल गांधी का जवाब था कि वह वह सबसे पहले महिलाओं को लोकसभा और सभी राज्यों की विधानसभाओं में 33% आरक्षण दिलाएंगे।

यूपी में 40% टिकटें महिलाओं के लिए रिजर्व

प्रियंका गांधी की तारीफ करते हुए अलका लांबा ने कहा कि यूपी चुनाव से पहले ही वहां कांग्रेस ने तय कर दिया कि 40% टिकटें महिलाओं को दी जाएंगी। पंचायती राज में 33% आरक्षण का कानून स्वर्गीय राजीव गांधी ने बनाया। इसी की बदौलत आज दस लाख से ज्यादा महिलाएं पंचायतों में सक्रिय भूमिका निभा रही हैं।

नई दिल्ली में महिलाओं को एक-एक हजार क्यों नहीं

नई दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल को घेरते हुए लांबा ने कहा कि पंजाब में चुनाव से पहले केजरीवाल यहां आकर पंजाब की महिलाओं को एक-एक हजार रुपए प्रतिमाह देने का लालच दे रहे हैं। केजरीवाल यही एक-एक हजार रुपए दिल्ली में महिलाओं को क्यों नहीं दे रहे?

कार्यक्रम में उपस्थित नवजोत सिद्धू, परगट सिंह, अलका लांबा व अन्य।
कार्यक्रम में उपस्थित नवजोत सिद्धू, परगट सिंह, अलका लांबा व अन्य।

व्हाट्सअप यूनिवर्सिटी को देख मन न बनाएं युवा

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव कृष्णा अलावरू ने छात्राओं से कहा कि वह व्हाट्सअप यूनिवर्सिटी में क्या चल रहा है? उसे सुनकर अपना मन न बनाएं। पंजाब में दो महीने बाद चुनाव हैं तो यहां पर तनाव भी है। पंजाब में तीन समस्याएं सबसे ज्यादा नजर आती हैं। पहली-बेरोजगारी, दूसरी-शिक्षा और तीसरी-असमानता। इन समस्याओं पर न तो नेता ध्यान दे रहे और न टीवी चैनल या अखबार।

शाहरुख का बेटा खबर है, बेरोजगारी नहीं

अलावरू ने मीडिया की भूमिका पर तंज कसते हुए कहा कि उसमें फिल्म अभिनेता शाहरुख खान का बेटा क्या करता है? यह खबर तो आती है मगर देश्क सबसे बड़ी समस्या बेरोजगारी कोई खबर देखने को नहीं मिलती। मीडिया यदि मुद्दों की बात करता तो सभी राजनितक दल भी इन्हें अपने एजेंडे में रखते।

खबरें और भी हैं...