कानूनगो:एससी-बीसी, इनकम और रेजिडेंस सर्टिफिकेट बनवाने के लिए तहसील कॉम्प्लेक्स में न पटवारी मिल रहे न कानूनगो

जालंधर20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सर्टिफिकेट पर पटवारियों के साइन करवाने के लिए लोग कई महीनों से चक्कर लगा रहे

सूबे में लोगों को सरकारी स्कीमों का लाभ देने में जालंधर टॉप पर है लेकिन बावजूद इसके जालंधर तहसील कॉम्प्लेक्स में लोगों की समस्याएं कम नहीं है। कोविड के बाद स्कूल और काॅलेज फिर से शुरू हो चुके है। सरकारी स्कीमों का फायदा लेने के लिए इन दिनों जिला प्रशासकीय कॉम्प्लेक्स में पटवारियों के पास स्टूडेंट्स और आम लोगों की भीड़ बढ़ गई है। ज्यादातर लोग इनकम सर्टिफिकेट के साथ कास्ट और रेजिडेंस सर्टिफिकेट बनवाने के लिए पहुंच रहे है। सर्टिफिकेट पर पटवारियों के साइन करवाने के लिए लोग कई महीनों से चक्कर लगा रहे है।

सब-रजिस्ट्रार कार्यालय के ऊपर और पुरानी बिल्डिंग में ज्यादातर पटवारी अपनी सीटों पर नहीं होते। उनकी जगह पर प्राईवेट कर्मचारी काम करते है, जिनके पास न तो साइन का अधिकार है और न ही मुहर लगाने का। इसलिए स्टूडेंट्स और लोगों को चक्कर लगाने पड़ रहे है। इसके पीछे एक कारण यह भी है कि जिले में पटवारियों की संख्या कम है, जिसके चलते उन पर काम का अतिरिक्त बोझ है। जमीन के मामलों को लेकर ज्यादातर पटवारी फील्ड में होते है।

खबरें और भी हैं...