नकोदर रोड गोलीकांड:नितिन की लाश का संस्कार, गैंगस्टर दलबीर को प्रोडक्शन वारंट पर लाएगी पुलिस

जालंधरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

नकोदर रोड पर दयोल नगर में लवली टिंबर स्टोर के पास शनिवार की आधी रात गोली लगने से जख्मी हुए अशोक नगर के नितिन अरोड़ा उर्फ डेलू की लाश का मंगलवार को सिविल अस्पताल में पोस्टमार्टम किया गया। लाश को पोस्टमार्टम के बाद फैमिली के हवाले कर दी गई। पुलिस ने जेल में बंद गैंगस्टर दलबीर सिंह बीरा का अदालत से मंगलवार को प्रोडक्शन वारंट लिया है।

दलबीर गैंगस्टर दलजीत सिंह भाना का करीबी साथी है। केस में फरार चल रहे शूटर आकाशदीप की तलाश में कई जगह रेड की गई,मगर उसका कोई अता पता नहीं लगा था। थाना भार्गव कैंप के एसएचओ भगवंत सिंह भुल्लर का कहना है कि दलबीर सिंह को सुबह जेल से प्रोडक्शन वारंट पर लाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि नितिन की लाश का संस्कार हो गया है। बता दें कि शनिवार देर रात करीब सवा एक बजे आर्थोनोवा अस्पताल से पुलिस कंट्रोल रूम में कॉल आई थी कि गोली लगने से एक युवक को जख्मी हालत में दो युवक छोड़कर भाग गए हैं। पुलिस ने लंबी जांच के बाद नितिन को जख्मी हालात में छोड़ कर भागे रजत को पकड़ लिया था। रजत की पूछताछ में खुलासा हुआ था कि उनकी गैंग की अमना गैंग से दुश्मनी चल रही है।

शनिवार रात आकाश के साथ नितिन, वह और उनके बाकी साथी अलग-अलग बाइक पर निकले थे। नकोदर रोड पर दयोल नगर में नितिन से कहासुनी हो गई। नितिन उनके हर काम में रुकावट डाल देता था। इसके बाद गुस्से में आए आकाश ने नितिन को पिस्टल से गोली मार दी थी। फिर उसकी जान बचाने के लिए उठाकर अस्पताल में छोड़कर भाग गए थे।

रजत का खुलासा था कि उनकी गैंग को जेल में बंद शशि शर्मा अटैक कांड के मुख्यारोपी गैंगस्टर दलबीर सिंह बीरा,अपने साथी गुरप्रीत सिंह उर्फ गोपी बाजवा और प्रिंस बाबा की मदद से चलाता है। प्रिंस और गोपी भी जेल में है मगर उन की गैंग चल रही है। नितिन की सोमवार शाम लुधियाना के डीएमसी अस्पताल में मौत हो गई थी। जिसके बाद केस में कत्ल की धारा 302 लगा दी गई थी।

खबरें और भी हैं...