दिल्ली के CM को छोड़ कोई VVIP नहीं पहुंचा:दूसरे प्रदेशों के मेहमानों के लिए बनाए थे 4 हेलीपैड, सिर्फ एक पर उतरा CM का हेलीकाप्टर

नवांशहर5 महीने पहले
मंच पर पहुंचते ही  हाथ हिलाकर लोगों का अभिवादन स्वीकार करते अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया। - Dainik Bhaskar
मंच पर पहुंचते ही हाथ हिलाकर लोगों का अभिवादन स्वीकार करते अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया।

सत्ता में आने के बाद आम आदमी पार्टी के मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान ने बुधवार को शहीद-ए-आजम भगत सिंह के गांव खटकड़ कला में शपथ ग्रहण की। समारोह में शामिल होने के लिए अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों को निमंत्रण भेजा गया था। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और उनके मंत्रिमंडल के साथी ही पहुंचे।

अन्य किसी राज्य से यहां तक पड़ोसी राज्य हिमाचल और हरियाणा से भी मुख्यमंत्री या उनके मंत्रिमंडल के सहयोगियों में से राज्य का प्रतिनिधित्व करने कार्यक्रम में कोई शामिल नहीं हुआ। पंजाब सरकार ने VVIP के लिए चार हेलीपैड बनवा रखे थे, लेकिन इनमें से सिर्फ एक पर ही मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान का हेलीकॉप्टर उतरा।

शपथ ग्रहण समारोह में 91 ही MLA पहुंचे

शपथ ग्रहण समारोह के दौरान 116 विधायकों की कुर्सियां लगाई गईं थी। यह कुर्सियां मंच पर ही दाईं तरफ लगाई गई। बीच में शपथ ग्रहण के लिए मुख्यमंत्री का मंच था। दूसरी ओर बाहर से आए मेहमानों के लिए या फिर मुख्य अतिथियों के लिए मंच बनाया गया था। मुख्य अतिथियों के मंच पर दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और उनके पांच मंत्री बैठे थे। विधायकों वाली चेयर्स पर सिर्फ आम आदमी पार्टी के 91 विधायक बैठे थे। राज्य से कांग्रेस, अकाली और भाजपा का कोई भी विधायक कार्यक्रम में शामिल नहीं हुआ। हालांकि पंजाब सरकार ने सभी चुने हुए प्रतिनिधियों को आमंत्रण भेजा हुआ था।

कार्यक्रम में पहुंचे प्रसिद्ध पंजाबी गायक गुरदास मान।
कार्यक्रम में पहुंचे प्रसिद्ध पंजाबी गायक गुरदास मान।

गुरदास मान, बीनू, कर्मजीत अनमोल, सदीक पहुंचे

शपथ ग्रहण समारोह में प्रसिद्ध पंजाबी गायक गुरदास मान, कॉमेडियन बीनू ढिल्लों, कर्मजीत अनमोल, मोहम्मद सदीक और गायिका अमर नूरी भी पहुंचीं। इस अवसर पर गुरदास मान ने कहा कि भगवंत मान ने जो कहा वह करके भी दिखा दिया है। उन्होंने कहा कि भगवंत मान अक्सर उनसे कहते थे कि वह मुख्यमंत्री बने तो शहीद भगत सिंह के घर में आकर शपथ ग्रहण करेंगे, इसे आज उन्होंने साबित कर दिया है। उन्होंने कहा कि भगवंत शहीद-ए-आजम भगत सिंह की सोच पर चलने वाले हैं। इस जगह से उनका गहरा नाता है। उन्होंने कहा कि पंजाब में बदलाव की एक बहुत जरूरत थी जिसे लोगों ने पूरा कर दिया है। अब नई सरकार पंजाब को फिर से रंगला पंजाब बनाएगी।

खबरें और भी हैं...