फिल्लौर से खबर:सोशल मीडिया पर नौवीं के छात्र ने सहपाठी की नकली आईडी बनाकर लिखा ‘मैं गे हूं’

जालंधर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
साथियों के साथ तेजधार हथियारों से किया हमला, स्कूल से डिसमिस - Dainik Bhaskar
साथियों के साथ तेजधार हथियारों से किया हमला, स्कूल से डिसमिस
  • छात्र की मां का मोबाइल नंबर भी दे दिया साथ, लोग करने लगे परेशान

इलाके के सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले नौवीं के 14 साल के विद्यार्थी ने सहपाठी की फेक आईडी बनाकर उस पर ‘मैं गे हूं’ लिख दिया। साथ में लड़के की फोटो और उसकी मां का मोबाइल नंबर भी दे दिया। उसने लिखा कि जो कोई मुझमें दिलचस्पी रखता है, वह फोन कर सकता है। इसके बाद उस नंबर पर कॉल्स आने लगीं। लोग उसकी मां से गलत भाषा में बातें करने लगे। परेशान छात्र ने आरोपी विद्यार्थी को आईडी डिलीट करने के लिए कहा तो वीरवार को आरोपी ने साथियों के साथ मिलकर तेजधार हथियारों से हमला कर दिया। आरोपी विद्यार्थी को स्कूल से डिसमिस कर दिया गया है।

स्कूल बैग में छुपाकर लाया था दातर, फरार
वीरवार को विद्यार्थी का साइंस का पेपर था। पेपर के बाद कक्षा से बाहर निकला तो स्कूल में करीब 20 अज्ञात युवक खड़े थे, उन्होंने उसे रोक लिया। 14 साल का विद्यार्थी एग्जाम बोर्ड के साथ स्कूल बैग में दातर छुपाकर लाया था। उसने पीछे से आकर 13 साल के सहपाठी पर हमला कर दिया और फरार हो गया। खून से लथपथ छात्र को उसके दोस्त सिविल अस्पताल ले गए, जहां सिर में 8 टांके लगाए गए। स्थानीय पुलिस का कहना है कि आईडी किसने बनाई, इसकी जांच साइबर क्राइम का स्टाफ करेगा।

खबरें और भी हैं...