पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • On The Pretext Of Sending The Son To Canada, The Widow's Mother Was Cheated, The Brother Seems To Be A Middleman In The Relationship Involved In The Conspiracy

कांट्रेक्ट मैरिज के सहारे ठगी की 'उड़ान':बेटे को कनाडा भेजने के बहाने विधवा मां की जमा-पूंजी ठगी, रिश्ते में भाई लगता बिचौला भी निकला साजिश में शामिल

जालंधर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने आरोपी बिचौले व लड़की की मामी के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। - प्रतीकात्मक फोटो - Dainik Bhaskar
पुलिस ने आरोपी बिचौले व लड़की की मामी के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। - प्रतीकात्मक फोटो

कांट्रेक्ट मैरिज के सहारे बेटे को कनाडा भेजने की विधवा मां की उम्मीद ठगी पर खत्म हो गई। आरोपियों ने उससे पैसे ले लिए, लेकिन शादी नहीं कराई। मामले की जांच हुई तो पता चला कि रिश्ते में भाई लगते जिस व्यक्ति ने यह सुझाव दिया, वह भी रुपयों की ठगी की साजिश में शामिल निकला। पुलिस ने जांच के बाद आरोपी भाई व एक महिला के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

भाई ने कहा, कनाडा की पक्की सिटीजन है लड़की

बोपाराय कलां का रहने वाला लालचंद शिकायत करने वाली हरजीत कौर का रिश्ते में भाई लगता है। वह रिश्ते कराता है। उसने अपनी बहन हरजीत कौर को कहा कि उसकी जानकारी में एक लड़की है जो कनाडा की पक्की सिटीजन है। अगर हरजीत अपने बेटे प्रीत बद्धन का रिश्ता कराकर उसे कनाडा भेजना चाहती है तो वो आगे बात कर सकता है। हरजीत कौर सहमत हुई तो लालचंद उसे लेकर पत्ती राउके गोराया में रहने वाली रितु भाटिया के घर ले गया।

महिला बोली-मेरी भांजी से करा सकती हूं रिश्ता

रितु भाटिया ने कहा कि उसकी भांजी अवनीत कौर कनाडा में पक्की सिटीजन है। अगर वो पैसा खर्च कर सकते हैं तो कांट्रेक्ट मैरिज कर हरजीत के बेटे को कनाडा भेज सकती है। इसके लिए 17 लाख रुपए खर्च करने हाेंगे। उनके बीच 15 लाख में सौदा तय हो गया। 10 लाख पहले जबकि 5 लाख कनाडा पहुंचने के बाद देने थे। इसके बाद वो उससे पैसे लेते रहे, लेकिन शादी नहीं कराई। विधवा महिला का आरोप है कि उससे करीब 10 लाख रुपए लिए गए। जिसमें से करीब ढाई लाख लौटा दिए गए, जबकि बाकी पैसे नहीं दिए जा रहे। हालांकि आरोपी महिला का कहना है कि उसे 4.70 लाख दे चुके हैं और अब सिर्फ 2.20 लाख देने हैं। पुलिस ने केस दर्ज करने के बाद इसकी जांच की बात कही है।

रिश्ते में भाई लगता बिचौला लेता रहा कमीशन

पुलिस की जांच में यह भी पता चला कि आरोपी लालचंद को उसकी बहन हरजीत कौर रितु भाटिया को देने के लिए जो पैसे देती थी, उसमें से वो अपनी कमीशन पहले ही रख लेता था। इसलिए पुलिस ने उसे भी ठगी की साजिश में शामिल माना।