जालंधर नगर निगम के हाल:मोबाइल पर हो रहे नक्शे पास, टाउन एंड प्लानिंग की ब्रांच में सिर्फ एक कम्प्यूटर

जालंधर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नगर निगम जालंधर - Dainik Bhaskar
नगर निगम जालंधर

पंजाब में नगर निगम जालंधर के हालात ठीक नहीं है। बाहर से दिखाने के लिए तो भवन आलीशान है, लेकिन अंदर जाकर इन्फ्रास्ट्रक्चर देखें तो पता चलता है कि स्मार्ट सिटी का नगर निगम कितना स्मार्ट है। जिस ब्रांच में पूरे शहर के नक्शे पास होने के लिए आते हैं वहां पर सिर्फ एक कम्प्यूटर है। उसी पर टाउन प्लानिंग विभाग की नक्शा पास करने वाली टीम लोगों के घरों के नक्शे देखती भी है और पास भी करती है। साथ ही अपने प्रोजेक्टों के नक्शे भी बनाती है।

हालात यह हैं कि ब्रांच आर्किटेक्ट से लेकर ड्राफ्ट्समैन तक सभी को दफ्तर में अपने मोबाइल पर अपना डाटा खर्च करके नक्शे पास करवाने पड़ रहे हैं। बिल्डिंग विभाग की शाखा के अधिकारियों ने ही बताया कि उनकी शाखा निगम में सबसे ज्यादा कमाई करके देने वाली शाखा है। उनकी शाखा निगम में सबसे ज्यादा बदनाम भी है। हर कोई आकर उन पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाता है कि नक्शे ऐसे ही पास हो जाते हैं, लेकिन उनके पास प्रॉपर तरीके से नक्शा पास करके उस पर अपनी ओपिनियन देकर उसे ऑनलाइन करने के लिए क्या मूलभूत ढांचा है इस पर कोई ध्यान नहीं देता।

ब्रांच में काम करने वाले अधिकारियों कर्मचारियों का कहना है कि एक पूरे शहर के नई कॉलोनियों के अलावा निगम के अपने प्रोजेक्टों के प्रारूप तैयार करने का बहुत ज्यादा प्रेशर है ऊपर से नक्शा समय पर पास न होने के कारण लोगों को परेशानी झेलनी पड़ रही है। उनके कोप का भाजन भी ब्रांच में काम करने वालों को बनना पड़ता है। कर्मचारी-अधिकारियों ने कहा कि वह अपने वरिष्ठ अधिकारियों और निगम कमिश्नर को कई बार बता चुके हैं लिखित में भी दे चुके हैं, लेकिन उनकी प्रॉब्लम की तरफ कोई ध्यान नहीं दे रहा है। उलटा किसी की शिकायत पर अधिकारी नक्शा जल्दी पास करने का दबाब जरूर बना देते हैं।