• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Pen, Watch And Phone Will Not Be Able To Be Taken Beyond The Main Gate, Examination Related Material Will Be Available In The Center Itself

पटवारियों की भर्ती के लिए परीक्षा आज:मेन गेट से आगे नहीं ले जा पाएंगे पेन, घड़ी व फोन, सेंटर में ही मिलेगी परीक्षा संबंधी सामग्री

जालंधर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 58 केंद्रों पर 13 हजार स्टूडेंट्स देंगे एग्जाम
  • बायोमैट्रिक अटेंडेंस लगेगी, परीक्षा केंद्रों पर फोन का इस्तेमाल रोकने के लिए लगेंगे जैमर

पंजाब सरकार की तरफ से अलग-अलग विभागों में पटवारियों की भर्ती को लेकर 1000 से ज्यादा पदों की भर्ती प्रक्रिया शुरू की थी, जिसमें रविवार को पूरे सूबे में अलग-अलग जिलों में एक लाख से ज्यादा लोग पटवारी का एग्जाम देंगे। नेशनल इंस्टीट्यूट फ टीचर ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट चंडीगढ़ की तरफ से यह एग्जाम कंडक्ट करवाया जा रहा है, जिसके लिए कोविड गाइडलाइंस सहित इस बार बड़े स्तर पर सख्ती और बदलाव किए जा रहे हैं। पटवारी की भर्ती माल विभाग, जिलादार व नहरी विभाग में की जा रही है। 8 अगस्त को सुबह 11 से दोपहर 1 बजे तक अलग-अलग सेंटर्स पर पेपर दिया जाएगा। इसके लिए जालंधर जिले में 2 नोडल सेंटर व 58 परीक्षा सेंटर बनाए गए है।

नोडल सेंटर डॉ. बीआर अंबेडकर नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलाॅजी व डीएवी जालंधर हैं, जिनमें नोडल अधिकारी अमरजीत सिंह बैंस एडीसी जनरल को लगाया गया है। 2 नोडल सेंटर ही आगे परीक्षा सेंटर को एग्जाम की सामग्री भेजेंगे और यहीं से ऑफिशियल की ड्यूटी लगाई जाएगी।

फिर भी जिला प्रशासन ने कहा कि अगर कोई स्टूडेंट अपने साथ मोबाइल ला रहा है इसके लिए वह अपने साथ आने वाले पेरेंट्स-रिश्तेदार या फिर अपनी गाड़ी व बाइक में जरूरी सामान रखें इसके अलावा कालेजों को भी मुख्य गेट के पास एक कमरे में व्यक्ति की ड्यूटी लगाने के लिए कहा गया है। लेकिन स्टूडेंट्स अपने सामान की खुद जिम्मेदारी लेंगे।

एक केंद्र में 300 से 500 तक स्टूडेंट्स की होगी उपस्थिति
जिला प्रशासन की तरफ से परीक्षा सेंटर्स पर कोविड प्रोटोकाल फॉलो करने की गाइडलाइन है। इसके लिए काॅलेज और स्कूलों में परीक्षा सेंटर बनाए गए हैं। इनमें ज्यादातर स्कूलों में 300 स्टूडेंट्स बैठेंगे और काॅलेजों में 500 परीक्षार्थियों के लिए प्रबंध किया गया है। एडमिट कार्ड पर गाइडलाइंस भी दी गई हैं। वे परीक्षा हाल में पेन, घड़ी भी नहीं ले जा सकेंगे।

परीक्षा के लिए सारी सामग्री सेंटर में ही मिलेगी। परीक्षार्थियों की बायोमैट्रिक हाजिरी लगेगी। मोबाइल आदि से किसी प्रकार की हेराफेरी न हो, इसलिए जैमर भी लगाए जाएंगे। मोबाइल आदि अपने रिश्तेदारों अथवा वाहन में रखना होगा। काॅलेजों के मेन गेट से आगे सामान नहीं ले जाएंगे और सामान की जिम्मेदारी भी परीक्षार्थियों की ही होगी।

खबरें और भी हैं...