पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

छेड़छाड़ करने का आरोप:किसान को हनी ट्रैप गैंग की लड़की भेज पुलिस ने की फर्जी रेड, एएसआई समेत 4 गिरफ्तार

जालंधर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आरोपी एएसआई कश्मीर लाल । - Dainik Bhaskar
आरोपी एएसआई कश्मीर लाल ।
  • गैंग की लड़की को मदद मांगने के बहाने भेजे थे और फिर छेड़छाड़ के आरोप में करते थे ब्लैकमेल
  • मां की बीमारी बारे कह युवक को फंसाया, 10 लाख मांगे, 2.5 लाख में सौदा तय

कमिश्नरेट पुलिस का ही एएसआई व कांस्टेबल मिलकर हनी-ट्रैप गैंग चला रहे थे। इसका खुलासा तब हुआ, जब उन्होंने गैंग की लड़की को मदद के बहाने एक व्यक्ति के पास भेजा और फिर फर्जी रेड कर दी। बाद में उसे छेड़छाड़ के केस में फंसाने की धमकी देकर 10 लाख रुपए मांगे। उसे शक हुआ तो सीनियर अफसरों को शिकायत कर दी।

जांच के बाद पुलिस ने जंडियाला पुलिस चौकी के एएसआई कश्मीर लाल, कांस्टेबल परमजीत सिंह समेत 5 लोगों पर साजिश रचकर फिरौती मांगने, जान से मारने की धमकी व साजिश के आरोप में केस दर्ज कर लिया है। इनमें कांस्टेबल परमजीत सिंह को छोड़ बाकी चार आरोपी अरेस्ट हो चुके हैं। जंडियाला चौकी के एएसआई कश्मीर सिंह ने इसकी पुष्टि की।

पीड़ित हरजिंदर सिंह ने बताया कि वह खेतीबाड़ी करता है। 3 मई को उसके मोबाइल पर एक कॉल आई। कॉल करने वाले ने कहा कि उसे लक्खी ने नंबर दिया है। लक्खी पहले हेयर ड्रेसर की दुकान में काम करता था और अब विदेश में है। उसने कहा कि लक्खी कहकर गया था कि कभी भी घर की जरूरत के लिए पैसे चाहिए हों तो हरजिंदर से ले लेना। उस दिन उसने कई बार कॉल किया लेकिन हरजिंदर टालता रहा। 9 मई को जब वह जालंधर के बस स्टैंड पर था तो एक लड़की की कॉल आई। उसने कहा कि उसकी मां सख्त बीमार है। रुपए न होने की वजह से वो दवाई का इंतजाम नहीं कर पा रही है।

अगर मदद कर दें। वह जालंधर से नकोदर आ रहा है। लांबड़ा बस स्टैंड पहुंचकर मदद कर देगा। लांबड़ा पहुंचा तो लड़की उसकी कार की अगली सीट पर बैठ गई। उसने लड़की को 2 हजार रुपए दे दिए। लड़की नीचे उतरने लगी तो एक कार उसकी कार के आगे आकर रुकी। उसमें से दो पुलिस वाले वर्दी में और एक सादे कपड़ों में बाहर निकले। इतनी देर में एक काले रंग की एक्टिवा पर करीब 28 साल की औरत भी वहां आ गई। उसे जबरन अपनी कार में बिठा लिया। लड़की, एक्टिवा पर आई औरत व सादे कपड़े वाला आदमी भी उसी कार में बैठ गए।

वो दोनों कारों को एक किलोमीटर दूर लोहारा गेट तक ले गए। वहां कार रोककर उसका पर्स व मोबाइल ले लिया। पर्स में करीब 10 हजार रुपए थे। उसे पुलिस वर्दी वाले व्यक्तियों ने धमकाते हुए कहा कि अगर उन्हें 10 लाख रुपए न दिए तो उस पर लड़की से छेड़छाड़ का केस दर्ज कर देंगे। हरजिंदर ने मिन्नतें की कि उसके पास 10 लाख रुपए नहीं हैं। किसी तरह सौदा 2.50 लाख में तय हो गया। उन्होंने एक लाख व डेढ़ लाख रुपए के दो चेक ले लिए। इसके बाद उसे कार की चाबी व मोबाइल लौटा दिया।

फिर उसे धमकाया कि अगर किसी को इसके बारे में बताया तो उसके खिलाफ केस दर्ज कर देंगे। इसके कुछ समय बाद पुलिस वाले फोन करने लगे कि उन्हें चेक नहीं, बल्कि ढाई लाख रुपए कैश चाहिए। इसकी जांच हुई तो पता चला कि इस हनी-ट्रैप गैंग में जंडियाला पुलिस चौकी का एएसआई कश्मीर लाल व हवलदार परमजीत सिंह शामिल हैं। सादे कपड़े में आया आरोपी जंडियाला में मोटर मैकेनिक का काम करने वाला रवि नाहर है। कार में बैठने वाली लड़की प्रभजोत कौर है जबकि एक्टिवा पर आई महिला गुरविंदर कौर है।

खबरें और भी हैं...