• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Police Solved The Murder Mystery Of Jalandhar Basti Bawa Khel In A Few Hours, Both The Killers Nabbed, Recovered Stolen Goods And Sharpen Weapon

पहले रेकी फिर लूटपाट के दौरान महिला की हत्या:जालंधर पुलिस ने चंद घंटों में सुलझाई गुत्थी, दोनों हत्यारे काबू, चाकू-लूटा सामान बरामद

जालंधर11 दिन पहले

पंजाब के जालंधर शहर में मंगलवार दोपहर को हुई हत्या की गुत्थी पुलिस ने चंद घंटों में सुलझा ली है। लुटेरों ने बस्ती बावा खेल एरिया में तारा सिंह एवेन्यू के साथ लगते कच्चा कोट में घर में घुसकर कमलजीत कौर (49) की गला रेत कर हत्या कर दी थी। लुटेरों ने घर में मौजूद कमलजीत के 17 वर्षीय बेटे सतबीर को भी बंधक बना लिया था।

डीसीपी जसकिरण सिंह तेजा ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों की पहचान राजकुमार निवासी काजी मंडी और कमलेश कुमार हाल निवासी रोशन लाल का भट्ठा नजदीक लम्मा पिंड मूल निवासी मिलकपुर खाजूरात (उत्तर प्रदेश) के रूप में हुई है। दोनों आरोपी पेशेवर मुजरिम हैं।

कुछ दिन पहले एक जेल से बाहर आया था
इनमें से एक राजकुमार तो कुछ दिन पहले ही हत्या के मामले में जेल से छूट कर आया है। दोनों ने कमलजीत कौर की हत्या से पहले उनके घर की रेकी की और उसके बाद मौका पाकर घर में घुस गए थे। राजकुमार और कमलेश नशे के आदी हैं। राजकुमार पर तो कॉमर्शियल मात्रा में हेरोइन तस्करी का मामला भी दर्ज है। अभी वह जमानत पर बाहर आया हुआ है।

बेटे को बंधक बनाकर की हत्या
पुलिस के मुताबिक कमलजीत कौर मंगलवार दोपहर 1:58 बजे अपनी भाभी माही संधू से फोन पर बात कर रही थी। उसी समय दोनों आरोपी घर में घुस गए। अंदर घुसते ही दोनों ने पहले कमलजीत कौर के बेटे सतबीर को बंधक बनाया और उसके बाद लगभग ढाई और तीन बजे कमलजीत कौर की हत्या कर दी।

पकड़े गए आरोपी पुलिस अधिकारियों के साथ
पकड़े गए आरोपी पुलिस अधिकारियों के साथ

माही संधू ने कहा कहा कि जब हत्यारों ने हमला किया तो वह अपनी ननद से बात कर रही थी। उसने उसकी चीखें सुनी, लेकिन उसके बाद कई बार रिंग किया, पर कमलजीत ने फोन नहीं उठाया। उसके कुछ देर बाद ही उन्हें सूचना मिल गई कि कमलजीत का मर्डर हो गया है।

सीसीटीवी की डीवीआर भी ले गए
लुटेरे हत्या की वारदात करने के बाद घर में लगे सीसीटीवी कैमरे का डीवीआर भी अपने साथ ले गए। जिस समय हत्या हुई, महिला का बेटा अपने कमरे में सो रहा था और घर पर काम करने वाली महिला घर की छत पर गई हुई थी। लुटेरों ने टेपों के साथ महिला के बेटे सतबीर को बांधा हुआ था। लुटेरे घर से मोबाइल फोन सोने-चांदी के गहने और कैश लेकर फरार हो गए थे।

जब तक नौकरानी ने शोर मचाया तब तक भाग गए लुटेरे
पुलिस थाना प्रभारी बस्ती बावा खेल ने बताया कि घर में रखे हुए कुत्ते को भी लुटेरों ने चोटिल कर बाथरुम में बंद कर दिया था। इस दौरान घर पर काम करने वाली नौकरानी छत की तरफ भागी तो वह भी सीढ़ियों से गिर गई और चोटिल हो गई। नौकरानी ने छत पर शोर तो मचाया, लेकिन तब तक लुटेरे फरार हो गए थे।

महिला का बेटा सतबीर रोता हुआ।
महिला का बेटा सतबीर रोता हुआ।

गले पर 2 बार किए
डीसीपी जसकरण सिंह तेजा ने कहा कि वारदात में इस्तेमाल किया गया चाकू, लूटे गए गहने, मोबाइल फोन और अन्य सामान लुटेरों से बरामद कर लिया गया है। लुटेरों ने महिला के गले पर चाकू से दो बार वार किया था। उन्होंने कहा कि पुलिस की विभिन्न टीमों ने इस मामले को टेक्निकल और अपने सोर्स नेटवर्क के माध्यम से सुलझाया।

मोबाइल की लोकेशन से पकड़ में आए

पुलिस हत्या की वारदात की सूचना मिलते ही सक्रिय हो गई थी। पुलिस थाना पुलिस और सीआईए स्टाफ को लेकर टीमों का गठन कर दिया। इसी बीच लूटे गए मोबाइल फोन की लोकेशन पता लगाने के लिए सर्विलांस पर लगा दिए गए। सर्विलांस पर मोबाइल फोन की लोकेशन पता चल गई। इसके बाद पुलिस ने टेक्निकल के साथ-साथ अपने सोर्स नेटवर्क का सहारा भी लिया। लोकेशन पता चलने के बाद मुखबिरों के माध्यम से पुलिस लुटेरों के ठिकानों तक पहुंची और उन्हें गिरफ्तार किया।