• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Police Warned In Advence But Did Not Heed The Advice, Meeting With Banks financiers Of Jalandhar Was Instructed To Keep Security Guards

सुरक्षा गार्ड होता तो न लुटता कैश:यूको बैंक के प्रबंधन ने पुलिस की हिदायत नहीं मानी, कुछ दिन पहले की थी मीटिंग

जालंधर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
यूको बैंक की तस्वीर जहां पर लूट हुई थी। - Dainik Bhaskar
यूको बैंक की तस्वीर जहां पर लूट हुई थी।

पंजाब के जालंधर में पुलिस को शायद इस बात का पहले ही अंदेशा था कि शहर में लूट की कोई बड़ी वारदात हो सकती है। इसलिए पुलिस ने कुछ दिन पहले ही शहर के सभी बैंकों, फाइनांसरों, मनी एक्सचेंज करने वालों, गोल्ड लोन देने वालों के साथ-साथ हथियार विक्रेताओं को आगाह किया था कि वह संस्थानों में सुरक्षा गार्ड रखें और सीसीटीवी कैमरे लगवाएं।

हैरानी की बात है कि लूट के शिकार हुए यूको बैंक के प्रबंधन ने इसे गंभीरता से नहीं लिया। लूट के वक्त बैंक में कोई सुरक्षा कर्मी ही नहीं था। पुलिस के अधिकारियों ने शहर में सबसे पहले हथियार विक्रेताओं के साथ बैठक की थी जिसमें उन्हें हथियारों को सुरक्षित रखने के कुछ टिप्स दिए थे।

सुरक्षा गार्ड होता तो कैश न लुटता
सुरक्षा गार्ड होता तो कैश न लुटता

इसके बाद अगली बैठक पुलिस के अधिकारियों ने शहर में बैंकों, गोल्ड लोन और मनी एक्सचेंज करने वालों के साथ की थी। पुलिस के अधिकारियों ने सभी को अपने-अपने संस्थानों में अलग-अलग एंगल पर सीसीटीवी कैमरे लगाने की हिदायत दी थी। ताकि यदि कोई आपराधिक किस्म का व्यक्ति संस्थान में आ रहा है तो उसका पहले ही पता चल सके।

इसके अलावा पुलिस के अधिकारियों ने फाइनांस से जुड़े से संस्थानों को विशेष हिदायत दी थी कि वह अपने-अपने संस्थानों में सीसीटीवी कैमरे लगाने के साथ-साथ सुरक्षा गार्ड भी रखें, लेकिन यूको बैंक ने पुलिस की हिदायत को नहीं माना। शहर में सिर्फ यूको बैंक ही नहीं बल्कि और भी कई बैंक हैं जिन्होंने कॉस्ट कटिंग करते हुए सुरक्षा गार्डों को हटा दिया है।