पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बिजली चोरी करने वालों पर पावरकाॅम ने शुरू की कार्रवाई:पावरकाॅम ने एक हफ्ते में 150 जगह की रेड 50 से अधिक मीटर चेकिंग के लिए लैब भेजे

जालंधरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पावरकाॅम की इंफोर्समेंट विंग ने एक हफ्ते में 150 से अधिक जगहों पर छापेमारी की है और शक के अाधार पर 50 से अधिक मीटरों को उतारकर एमई लैब में चेकिंग के लिए भिजवा दिया। वीरवार को भी शहर के कई इलाकों में इंफोर्समेंट विंग ने चेकिंग की। इसमें जिम से लेकर घरों के मीटरों को चेक किया गया और कई मीटरों को उतारकर अपने कब्जे में लिया। पावरकाॅम अधिकारियों ने कहा कि अब मीटर रीडरों की मिलीभुगत काफी कम हो गई है। जिसके बाद चोरी के केस भी कम सामने आ रहे हैं। क्योंकि पिछले छह महीने में विभाग ने मीटर रीडरों समेत कई सरकारी कर्मचारियों पर भी कार्रवाई की है। लेकिन आज भी कई उपभोक्ता ऐसे हैं, जो सुधरने का नाम नहीं ले रहे हैं। लगातार छापेमारी के दौरान मीटर भी उतारे जाते हैं।

ज्यादातर मीटर को डैमेज कर देते हैं बिजली चोर

डिप्टी चीफ इंजीनियर रजत शर्मा ने बताया कि सीएमडी ए वेणू प्रसाद ने जीरो टाॅलरेंस पाॅलिसी के तहत बिजली चोरों पर शिकंजा कसने के लिए कहा है। दो दिन पहले इंफोर्समेंट विभाग को चार जेई और मिल गए हैं। जशक के आधार पर जो मीटर उतारे जाते हैं। उसमें ज्यादातर मीटर बिजली चोरों ने डैमेज कर दिए होते हैं। विभाग के अधिकारियों ने एक जिम का मीटर उतारा है। जिसे पूरी तरह से डैमेज किया हुआ है। जिसको एमई लैब में चेक किया जा रहा है। उम्मीद है कि बिजली चोरी का मोटा केस सामने आएगा।

खबरें और भी हैं...