पावरकॉम:पकड़े रीडरों के इलाकों में मीटरों की चेकिंग करवाएगा पावरकॉम

जालंधर2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • बिजली चोरी के मामले में प्राइवेट कंपनी ने सस्पेंड किए 6 मीटर रीडर नौकरी से निकाले

पावरकॉम के अपने ही ठेका कर्मचारी बिजली चोरी करवा रहे थे। सारा गोलमाल सामने आने के बाद 6 मीटर रीडर सस्पेंड किए थे। अब उन्हें रखने वाली प्राइवेट कंपनी ने जॉब से ही निकालने के आदेश जारी किए हैं। जो 200 से अधिक मीटर रीडर अभी काम कर रहे हैं, उनसे उनके क्वालिफिकेशन का दस्तावेज दोबारा से मंगवाए गए हैं। अब मीटर रीडरों की वर्किंग पर पैनी निगाह रखी जाएगी।

उन्हें मीटरों की रीडिंग नोट करने के बाद उनकी फोटो खींचकर रेवेन्यू अधिकारी को भेजने के काम की अच्छे तरीके के पालन करना होगा। किसी ने भी मीटर की खराब फोटो खींची या फिर फोटो से छेड़छाड़ की तो उसके इलाके के संदिग्ध मीटर की क्रॉस चेकिंग होगी। सबसे बड़ी कार्रवाई बिजली चोरों पर होगी, जिन 6 मीटर रीडरों पर कार्रवाई हुई है, उनके इलाके में आते सभी घरेलू व व्यापारिक मीटर चेक किए जाएंगे। पावरकॉम के जानकार बताते हैं कि जो मीटर रीडर पकड़े गए व दो तरीके से विभाग को नुकसान पहुंचा रहे थे। पहला तरीका था मीटरों से छेड़छाड़ करने वालों की जानकारी छिपाना।

दूसरा था हर महीने पैसे लेकर बिजली खपत कम नोट करना। अब ये मामला सामने आने के बाद विभाग ने संबंधित इलाकों में मीटरों की रीडिंग नोट करने और फिजीकल चेकिंग के आदेश दिए हैं। संगत सिंह नगर में कई बार मीटरों की छेड़छाड़ का मामला सामने आया था, वहां भी कार्रवाई हो सकती है। वहां के मीटरों की स्कैनिंग करेंगे।

उधर, पावरकॉम के एनफोर्समेंट विंग के डिप्टी चीफ इंजीनियर रजत शर्मा कहते हैं कि हम संदिग्ध मीटरों की चेकिंग करेंगे। उन्होंने कहा कि हमारी मीटर चेकिंग लेबोरेटरी अब नई टेक्नोलॉजी से अपग्रेड की गई है। अब मीटरों की चेकिंग के रिजल्ट भी तेजी से आ रहे हैं, जिससे कम समय में ज्यादा मीटरों की चेकिंग हो जाती है।

खबरें और भी हैं...