• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Private Hospitals Will Be Posted As Nodal Officers So That There Is No Mistake In The Birth And Death Certificate Entry.

शिकायतों के बाद फैसला:निजी अस्पतालों को तैनात होंगे नोडल अफसर ताकि जन्म एवं मृत्यु सर्टिफिकेट की एंट्री में गलती न हो

जालंधर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह। - Dainik Bhaskar
पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह।
  • अकसर नाम और मात्रा में गलती की आ रही शिकायतों के बाद लिया गया फैसला

जन्म एवं मृत्यु के प्रमाण पत्र में होने वाली गलतियों को रोकने के लिए पंजाब सरकार ने नया आदेश जारी किया है। इसके तहत सभी निजी अस्पताल प्रबंधन को इस काम के लिए नोडल अफसर तैनात करना होगा। नोडल अफसरों को जन्म एवं मृत्यु के सर्टिफिकेट के लिए सौ फीसदी एंट्री के साथ ही आवेदन भरने में होने वाली गलतियों को खत्म करना होगा। इसलिए पूरी प्रक्रिया में सुधार के लिए पंजाब सरकार के एडिशनल डायरेक्टर ने सभी नगर निगम को पत्र जारी किया है।

इसी पत्र के हवाले से जालंधर निगम की लोकल रजिस्ट्रार (जन्म एवं मृत्यु) डाॅ. मधु भारद्वाज ने आईएमए, जालंधर के प्रेसिडेंट को चिट्‌ठी भेजी है।लोकल रजिस्ट्रार ने चिट्‌ठी में कहा है कि आईएमए से संबंधित समूह अस्पताल और नर्सिंग होम को अगाह करें कि वे जन्म एवं मृत्यु संबंधी एंट्री के लिए अपने नोडल अफसर का नाम, ईमेल और मोबाइल नंबर की लिस्ट निगम में अपडेट कराएं। अस्पताल प्रबंधन नोडल अफसर को एंट्री करने से लेकर आवेदन फार्म भरने के बारे बताएं ताकि एंट्री में कोई गलती न हो। कारण अस्पताल से जो एंट्री आती है, निगम उसी आधार पर सर्टिफिकेट जारी करता है लेकिन काफी संख्या में नाम, उसकी मात्रा से लेकर माता-पिता के नाम और पते में गलतियां होने से लोग परेशान होते हैं।

खबरें और भी हैं...