• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Pulse Oximeter Has Been Demanded By The Government For One Lakh People Who Have Been Cured; Said Can Not Find In The Market

कोरोना से जूझते पंजाब में नया संकट:सरकार ने ठीक हो चुके एक लाख लोगों से वापस मांगे पल्स ऑक्सीमीटर; कहा- बाजार में नहीं मिल रहा

जालंधर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इस बारे में स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिद्धू के हवाले से अपील जारी की गई है। - Dainik Bhaskar
इस बारे में स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिद्धू के हवाले से अपील जारी की गई है।

कोरोना महामारी से जूझ रहे पंजाब में अब पल्स ऑक्सीमीटर का संकट खड़ा हो गया है। ऑक्सीमीटर शरीर में ऑक्सीजन का सेचुरेशन लेवल देखने में इस्तेमाल होता है। पंजाब सरकार कोरोना रोगियों कों इलाज की फतेह किट के साथ इसे मुफ्त दे रही है। अब सरकार ने उन एक लाख लोगों से ऑक्सीमीटर वापस लौटाने को कहा है, जो कोरोना से ठीक हो चुके हैं। इन्हें सैनिटाइज कर नए कोरोना मरीजों को दिया जाएगा। इसके पीछे स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्री बलवीर सिंह सिद्धू ने तर्क दिया कि पूरे देश में कोरोना महामारी फैली हुई है। जिससे ऑक्सीमीटर की डिमांड काफी बढ़ गई और अब बाजार में यह नहीं मिल रहा।

सरकार की फतेह किट में दिया था फ्री

सरकार कोरोना पॉजिटिव मरीजों को मेडिकल मदद के लिए मुफ्त फतेह किट देती है। जिसमें स्टीमर, डिजिटल थर्मामीटर, दवा व मास्क के साथ पल्स ऑक्सीमीटर भी देती है। पंजाब में अभी तक एक लाख कोरोना रोगियों को फतेह किट बांटी जा चुकी है। अब पिछले कुछ समय से फतेह किट मिलने में दिक्कत हो रही है। कोरोना मरीजों को देरी से यह किट उपलब्ध कराई जा रही है। ऐसे में सरकार ने अपील की है कि इन्हें नजदीकी सरकारी सेहत संस्थानों में जमा करवा दें। इस बारे में जानकारी के लिए हेल्पलाइन नंबर 104 पर भी संपर्क कर सकते हैं।

नजदीकी सेहत केंद्रों में जमा कराएं ताकि दूसरों को दे सकें : स्वास्थ्य मंत्री

स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्री बलबीर सिद्धू ने कहा कि पल्स ऑक्सीमीटर की देश भर में कमी है। इससे सरकार को भी इसे खरीदने में दिक्कत हो रही है। हमने उन लोगों से अपील की है जो कोरोना से पूरी तरह ठीक हो चुके हैं। वो इन्हें अपने नजदीकी सरकारी सेहत केंद्र में जमा करा दें ताकि मुश्किल घड़ी में यह दूसरे कोरोना रोगियों को दी जा सके।