• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • CM Channi Allotted 23 Districts To 16 Ministers, CM's Displeasure With Razia Sultana, Who Resigned From The Ministerial Post; Not Made In charge Of Any District

CM चन्नी ने 16 मंत्रियों को सौंपे 23 जिले:मंत्री पद से इस्तीफा देने वाली रजिया सुल्ताना से CM की नाराजगी बरकरार; किसी जिले का इंचार्ज नहीं बनाया

जालंधर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब में जिला स्तरीय कमेटियों के लिए मंत्रियों की ड्यूटी लगा दी गई है। CM चरणजीत चन्नी ने 16 मंत्रियों को 23 जिले सौंपे हैं। खास बात यह है कि इसमें मंत्री पद से इस्तीफा देने वाली रजिया सुल्ताना का नाम शामिल नहीं है। रजिया ने नवजोत सिद्धू के समर्थन में मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद उनसे CM चन्नी की नाराजगी बरकरार है। जो इस सूची में भी नजर आ रहा है। वहीं, पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह का तख्तापलट करने वाले माझा के तीन मंत्रियों को 2-2 जिले सौंपे गए हैं। इसके अलावा नवजोत सिद्धू राणा गुरजीत के मंत्री बनाने का विरोध कर रहे थे। उन्हें भी अब 2 जिलों की जिम्मेदारी दी गई है।

किन मंत्रियों को कौन से जिले

  • सुखजिंदर रंधावा - फिरोजपुर और श्री मुक्तसर साहिब
  • ओमप्रकाश सोनी - जालंधर
  • ब्रह्म महिंदरा - मोहाली
  • मनप्रीत बादल - लुधियाना और रोपड़
  • तृप्त राजिंदर बाजवा - अमृतसर और तरनतारन
  • अरूणा चौधरी - होशियारपुर और पठानकोट
  • सुखबिंदर सिंह सरकारिया - गुरदासपुर और फाजिल्का
  • राणा गुरजीत सिंह - बरनाला और मोगा
  • विजयेंद्र सिंगला - फतेहगढ़ साहिब
  • भारत भूषण आशु - संगरूर और फरीदकोट
  • रणदीप सिंह नाभा - कपूरथला
  • राजकुमार वेरका - पटियाला
  • संगत सिंह गिलजियां - शहीद भगत सिंह नगर
  • परगट सिंह - मलेरकोटला
  • अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग - मानसा
  • गुरकीरत सिंह कोटली - बठिंडा

जिला अलॉटमेंट में दिखा माझा एक्सप्रेस का दबदबा
मंत्रियों को जिलों का इंचार्ज बनाने में भी माझा एक्सप्रेस कहे जाने वाले मंत्रियों रंधावा, बाजवा और सरकारिया का दबदबा दिखा है। सीएम चन्नी ने इनको 2-2 जिलों की जिम्मेदारी दी है। डिप्टी सीएम सुखजिंदर रंधावा को फिरोजपुर और मुक्तसर साहिब जिले दिए गए। दोनों जिले शिरोमणि अकाली दल (बादल) के गढ़ हैं। तृप्त राजिंदर बाजवा को अमृतसर और तरनतारन सौंपा गया है। यहां पर अकाली दल के दिग्गज नेता बिक्रम सिंह मजीठिया का दबदबा माना जाता है। सुखबिंदर सिंह सुख सरकारिया को गुरदासपुर और फाजिल्का जिला दिया गया है। गुरदासपुर में भाजपा का अच्छा आधार है। वहीं, फाजिल्का में अकाली दल के प्रधान सुखबीर बादल का दबदबा है।

मंत्री पद बचा,अब जिम्मेदारी भी बढ़ी
कैप्टन अमरिंदर सिंह की कैबिनेट में मंत्री रहीं अरूणा चौधरी का चन्नी सरकार में मंत्री पद जाने की चर्चा थी। हालांकि सीएम चरणजीत चन्नी यह कुर्सी बचाने में कामयाब रहे। इसके बाद अब उन्हें भी होशियारपुर और पठानकोट की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

मंत्री भारत भूषण आशु।
मंत्री भारत भूषण आशु।

आशु के बढ़ते दबदबे ने चौकाया
सबसे चौंकाने वाली बात लुधियाना से मंत्री भारत भूषण आशु का बढ़ता दबदबा है। आशु को भी संगरूर और फरीदकोट जिले सौंपे गए हैं। आशु का नाम पहले पंजाब के डिप्टी सीएम के तौर पर सामने आ रहा था। हालांकि बाद में वह मंत्री बनकर लौट आए। उन्हें पंजाब कांग्रेस के पूर्व प्रधान सुनील जाखड़ और राहुल गांधी का करीबी माना जाता है।

खबरें और भी हैं...