• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Punjab CM Charanjit Channi's New Controversy, Touches Rahul Gandhi's Feet After Taking Oath As Chief Minister, People Said Broke The Dignity Of Constitutional Post, Rahul Is Younger Even In Age

पंजाब के CM चरणजीत चन्नी का नया विवाद:मुख्यमंत्री की शपथ लेने के बाद राहुल गांधी के पैर छुए, लोग बोले- संवैधानिक पद की मर्यादा तोड़ी, राहुल उम्र में भी छोटे

जालंधर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पंजाब के नए CM चरणजीत सिंह चन्नी को लेकर नया विवाद शुरू हो गया है। उन्होंने सोमवार को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी। इसके बाद एक वीडियो के जरिए कहा जा रहा है कि CM ने राहुल गांधी के पैर छुए। इसको लेकर चर्चा हो रही है कि चन्नी अब संवैधानिक पद पर हैं। उन्होंने उसकी मर्यादा तोड़ी है। वैसे भी, राहुल गांधी उनसे उम्र में छोटे हैं। इसको लेकर सोशल मीडिया पर भी चर्चा हो रही है। यह वीडियो उस दिन सभी सोशल मीडिया पर लाइव टेलीकास्ट के दौरान ही सामने आया। हालांकि इसको लेकर CM या उनके पक्ष की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।

पहले सिद्धू ने झुककर स्वागत किया, फिर चन्नी स्वागत करने आए
पंजाब के गवर्नर बीएल पुरोहित ने चरणजीत चन्नी को पंजाब के मुख्यमंत्री की शपथ दिलाई। इसके बाद शपथ ग्रहण समारोह खत्म हो गया। राहुल गांधी करीब 22 मिनट की देरी से पहुंचे थे। जब चन्नी का बतौर मुख्यमंत्री सम्मान हो रहा था तो राहुल गांधी भी पहुंच गए। पहले नवजोत सिद्धू राहुल गांधी के करीब आए और झुककर उनका स्वागत किया। इसके बाद चरणजीत चन्नी आए और राहुल गांधी के आगे झुके। इससे कहा जा रहा है कि चन्नी ने राहुल गांधी के पैर छुए। उस वक्त यह सारा दृश्य जब हुआ, तो गवर्नर भी वहीं स्टेज पर खड़े थे।

पंजाब के नए CM से जुड़े कई चर्चित मामले
पंजाब के नए CM चरणजीत चन्नी से जुड़े कई मामले सामने आ चुके हैं। इनमें टॉस से पोस्टिंग का फैसला, मुख्यमंत्री बने के लिए हाथी की सवारी, वास्तु के हिसाब से सरकारी घर की एंट्री के लिए ग्रीन बैल्ट तुड़वाना शामिल है। इसके अलावा महिला IAS अफसर को आपत्तिजनक मैसेज भेजने के भी उन पर आरोप लगे थे।

चौंकाने वाले तरीके से CM बने चन्नी
कैप्टन अमरिंदर सिंह के तख्तापलट के बाद सुनील जाखड़ कांग्रेस हाईकमान की पहली पसंद थे। केंद्रीय पर्यवेक्षकों को भी यही कहकर भेजा गया। जाखड़ को भी बैंगलुरु से वापस बुलाया गया। कांग्रेस पार्टी प्रधान सिख व CM हिंदू बना सियासी संतुलन साधना चाहती थी। हालांकि विधायक दल की बैठक में विरोध शुरू हो गया। पंजाब को सिख स्टेट बता सिख चेहरे की मांग उठ गई।

मुख्यमंत्री चरणजीत चन्नी के साथ सुखजिंदर रंधावा और ओपी सोनी ने भी पंजाब के नए डिप्टी सीएम के तौर पर शपथ ली थी।
मुख्यमंत्री चरणजीत चन्नी के साथ सुखजिंदर रंधावा और ओपी सोनी ने भी पंजाब के नए डिप्टी सीएम के तौर पर शपथ ली थी।

जिसके बाद सुखजिंदर रंधावा का नाम तय हो गया। यह देख अब तक चुप सिद्धू नाराज हो गए। वो गुस्से में केंद्रीय पर्यवेक्षकों वाले होटल से निकल गए। जाने से पहले सिद्धू ने कहा कि जट्‌टसिख को CM बनाना है तो फिर वो खुद बनेंगे वर्ना किसी अनुसूचित जाति नेता को बना दो। जिसके बाद चन्नी का नाम सामने आया। राहुल गांधी की सहमति से वो CM बन गए। रंधावा को डिप्टी सीएम बनकर रह गए।

खबरें और भी हैं...