• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Punjab Connection Of Heroin Recovered From Gujarat, ED Seizes Indian And Foreign Currency Worth 79 Lakhs From 9 Places In Amritsar; Wires Related To 3 Thousand Kg Heroin Recovered From Mundra Port

गुजरात से बरामद हेरोइन का पंजाब कनेक्शन:अमृतसर में 9 जगह से ED ने जब्त की 79 लाख की करंसी; मुंद्रा पोर्ट से बरामद 3 हजार किलो हेरोइन से जुड़े तार

जालंधर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
NIA के साथ ED की टीम ने भी अमृतसर में सर्च की थी। - Dainik Bhaskar
NIA के साथ ED की टीम ने भी अमृतसर में सर्च की थी।

गुजरात के मुद्रा पोर्ट से बरामद 3 हजार करोड़ की हेरोइन बरामदगी के बाद पंजाब में एन्फोर्समेंट डायरेक्टोरेट (ED) ने बड़ी कार्रवाई की है। ED ने अमृतसर में 9 जगहों पर रेड कर 79 लाख की भारतीय और विदेशी करंसी बरामद की है। जिसे ड्रग मनी से जोड़कर देखा जा रहा है। कैश बरामदगी वाली जगहों में अमृतसर के पूर्व अकाली नेता अनवर मसीह की प्रॉपर्टी भी शामिल है। जिसकी कोठी से जनवरी 2020 में 194 किलो हेरोइन बरामद हुई थी। ED के जालंधर ऑफिस ने यह सर्च शुक्रवार को नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) की रेड के दौरान ही की थी। ED इस मामले में मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत कार्रवाई कर रही है।

पूर्व अकाली नेता अनवर मसीह, जिसकी कोठी से 194 किलो हेरोइन बरामद हुई थी।
पूर्व अकाली नेता अनवर मसीह, जिसकी कोठी से 194 किलो हेरोइन बरामद हुई थी।

अमृतसर में मनी चेंजर के घर भी की रेड; 3 लोगों पर किंगपिन होने का शक
ED ने शुक्रवार को पूर्व अकाली नेता अनवर मसीह की प्रॉपर्टी के अलावा अमृतसर में एक मनी चेंजर के ऑफिस पर रेड की थी। जिस पर हवाला के जरिए विदेश में ड्रग मनी भेजने का शक है। इसके अलावा अंकुश कपूर की प्रॉपर्टी पर भी ED ने रेड की थी। अंकुश को ऑस्ट्रेलिया में रह रहे तनवीर बेदी और इटली में रहने वाले सिमरनजीत सिंह संधू के साथ इस इंटरनेशनल ड्रग रैकेट का किंगपिन माना जा रहा है। ED के मुताबिक कपूर और उसके साथियों सुखविंदर सिंह, मेजर सिंह, तमन्ना गुप्ता और अफगानी नागरिक अरमान बशर ने अनवर मसीह के अमृतसर स्थित घर को अपना ठिकाना बना रखा था।

जालंधर में ED का ऑफिस।
जालंधर में ED का ऑफिस।

बेदी इंटरनेशनल ड्रग रैकेट का किंगपिन, मुंद्रा रिकवरी केस में भी हो रही जांच
पंजाब पुलिस की इंटेलिजेंस विंग के मुताबिक तनवीर बेदी पूरे इंटरनेशनल ड्रग रैकेट को चला रहा है। उसके लिंक दुबई, पाकिस्तान और अफगानिस्तान से जुड़े हुए हैं। वह हवाला और फर्जी कंपनियों के जरिए पैसा ले रहे हैं। तनवीर बेदी का नाम पहले भी पूर्व सरपंच गुरदीप रानो ड्रग केस में सामने आ चुका है। जिस रैकेट को स्पेशल टास्क फोर्स (STF) ने नवंबर 2020 में बेनकाब किया था। अब NIA और ED मुद्रा ड्रग रिकवरी केस में बेदी और संधू की भूमिका की जांच कर रहे हैं।

गुजरात के मुंद्रा पोर्ट से बरामद की गई हेरोइन।
गुजरात के मुंद्रा पोर्ट से बरामद की गई हेरोइन।

टैल्कम पाउडर की आड़ में 2 कंटेनरों से मिली थी हेरोइन
करीब दो हफ्ते पहले राजस्व खुफिया निदेशालय (DRI) ने गुजरात के कच्छ के मुंद्रा पोर्ट से 3 हजार किलो हेरोइन बरामद की थी। अंतरराष्ट्रीय मार्केट में इसकी कीमत 21 हजार करोड़ रुपए बताई गई थी। ड्रग 2 कंटेनर्स से जब्त की गई है। एक में 2,000 किलो और दूसरे में 1,000 किलो हेरोइन मिली। अफगानिस्तान से रवाना यह खेप 13 सितंबर को ईरान के बंदर अब्बास बंदरगाह से गुजरात रवाना हुई थी और इसे आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा पहुंचाना था। इसे टेल्कम पाउडर के नाम पर भेजा गया था। जिसके बाद NIA के साथ ED ने भी मनी लॉन्ड्रिंग के लिहाज से इसकी जांच शुरू कर दी थी।

खबरें और भी हैं...