• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Punjab Government's Big Decision On The Threat Of Corona, Government Employees Who Do Not Take A Single Dose Of Kovid Vaccine Will Be Sent On Leave; Punjab To Become First State To Open Anganwadi Center

पंजाब सरकार का बड़ा फैसला:कोरोना वैक्सीन न लगवाने वाले कर्मचारी जबरन छुट्‌टी पर भेजे जाएंगे, कैप्टन बोले- इनकी लापरवाही की कीमत दूसरे क्यों चुकाएं

जालंधरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना के खतरे को देखते हुए पंजाब सरकार ने सरकारी कर्मचारियों को लेकर बड़ा फैसला लिया है। शुक्रवार को कोविड रिव्यू मीटिंग में CM कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि जिस कर्मचारी को कोरोना वैक्सीन की एक भी डोज नहीं लगी है, उसे जबरन छुट्‌टी पर भेजा जाएगा। इसके लिए 15 सितंबर तक की डेडलाइन तय कर दी गई है। इस आदेश से सिर्फ उन्हीं कर्मचारियों को छूट मिलेगी, जो स्वास्थ्य कारणों से वैक्सीन नहीं लगवा सकते।

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि यह कदम पंजाब के लोगों को कोरोना से बचाने के लिए उठाया गया है, ताकि जिन लोगों ने वैक्सीन लगवा ली है, उन्हें टीके से लगातार झिझकने वालों की कीमत न चुकानी पड़े। इसके अलावा उन्होंने उन टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टाफ को ड्यूटी जॉइन करने की इजाजत दे दी है, जिन्होंने कम से कम 4 हफ्ते पहले वैक्सीन की एक डोज ले ली हो। हालांकि, उन्हें कोविड टेस्ट की वीकली RTPCR नेगेटिव रिपोर्ट देनी होगी। जिन्हें साथ में कोई दूसरी बीमारियां हैं और वे कोविड की दोनों डोज ले चुके हैं, उन्हें सिर्फ एक ही बार यह रिपोर्ट देनी होगी।

स्टाफ फुल वैक्सीनेट हो, तभी खुलेंगे आंगनवाड़ी सेंटर
इसके अलावा कैप्टन ने पंजाब में इसी महीने में आंगनवाड़ी सेंटर खोलने के लिए सामाजिक सुरक्षा विभाग को इजाजत दे दी है। इसके लिए स्टाफ को वैक्सीन लगी होनी अनिवार्य है। पंजाब आंगनवाड़ी सेंटर खोलने वाला पूरे देश में पहला राज्य होगा।

कोविड से जुड़ी बंदिशें 30 सितंबर तक बढ़ीं
पंजाब सरकार ने कोविड से जुड़ी बंदिशें 30 सितंबर तक बढ़ा दी हैं। फेस्टिवल सीजन में सभी तरह की भीड़ इकट्‌ठी करने की लिमिट 300 कर दी गई है। इसमें राजनीतिक रैलियों और कार्यक्रमों को भी शामिल किया गया है। यहां भी मास्क और सोशल डिस्टेंस रखना अनिवार्य होगा। वहीं, ऐसे कार्यक्रमों के स्टाफ को कोविड वैक्सीन की दोनों डोज लगी होनी अनिवार्य है।

रेस्टोरेंट और मैरिज पैलेस की चेकिंग के लिए जॉइंट फ्लाइंट स्क्वॉड
कैप्टन अमरिंदर सिंह ने DGP दिनकर गुप्ता को कहा कि पंजाब में कोविड की बंदिशों को सख्ती से लागू किया जाए। DGP ने कहा कि कोरोना केस कम होने के बाद मास्क को लेकर लोग ढील बरतने लगे हैं। सेहत विभाग को पुलिस की मदद से इसे सख्ती से लागू करना चाहिए।

कैप्टन ने चीफ सेक्रेटरी विनी महाजन को कहा कि वह पुलिस और प्रशासन की जॉइंट फ्लाइंग स्क्वॉड बनाए। हर जिले में ऐसी टीमें रेस्टोरेंट, मैरिज पैलेस और ऐसी अन्य जगहों पर रेड कर कोविड नियमों की जांच करेंगे।

खबरें और भी हैं...