पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

खतरनाक हुआ कोरोना:पंजाब ने 413 दिन में 10 हजार अपने गंवाए; 24 घंटे में 156 लोगों की मौत, पहली बार 8828 मरीज मिले

जालंधरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोरोनाकाल में हो रही मौतों से हर परिवार गमज़दा हैं। लेकिन महामारी की ऐसी घड़ी में अपनी भावनाओं पर काबू रखना भी जरूरी है, क्योंकि जरा सी चूक से परिवार के दूसरे सदस्य भी खतरे में आ सकते हैं। तस्वीर जालंधर कैंट के रामबाग श्मशानघाट की है। फोटो : दीपक - Dainik Bhaskar
कोरोनाकाल में हो रही मौतों से हर परिवार गमज़दा हैं। लेकिन महामारी की ऐसी घड़ी में अपनी भावनाओं पर काबू रखना भी जरूरी है, क्योंकि जरा सी चूक से परिवार के दूसरे सदस्य भी खतरे में आ सकते हैं। तस्वीर जालंधर कैंट के रामबाग श्मशानघाट की है। फोटो : दीपक
  • मृतक आंकड़ा 10,003 हुआ, सूबे में मृत्यु दर 2.4%, जो देश में सबसे ज्यादा

19 मार्च से पंजाब में कोरोना से शुरू हुई मौतों की संख्या 413वें दिन 6 मई को 10 हजार का आंकड़ा पार कर गई। 3.2% की अधिकतम मृत्युदर के साथ पूरा साल पंजाब देश में सबसे ऊपर रहा। सूबे में सबसे ज्यादा 2.4% मृत्युदर है, जो देश में सबसे ज्यादा है। वीरवार को पंजाब देश का ऐसा 7वां राज्य हो गया है, जहां संक्रमण से अपनों को गंवाने वालों की संख्या 10 हजार का आंकड़ा पार कर गई है।

24 घंटे में सूबे में 156 मौतें हुईं, जिससे अब तक संक्रमण से दम तोड़ने वाले मरीजों का आंकड़ा 10003 हो गया। सबसे ज्यादा 25 मौतें अमृतसर में हुईं, जबकि 19 मरीजों की मौत लुधियाना में व 15 मरीजों की मौत पटियाला में हुई। सूबे में मृत्युदर 2.4% के साथ अभी भी देश में सबसे ऊंची बनी हुई है। 24 घंटे में अबतक के सबसे ज्यादा 8828 मामले भी सामने आए। सबसे ज्यादा 1257 मरीज लुधियाना में मिले। कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 4,14,839 हो गई है। सूबे की एक्टिव दर बढ़कर 16% हो गई है। ऑक्सीजन सपोर्ट पर 8728 मरीज हैं। पिछले 24 घंटे में 5126 मरीज ठीक हुए हैं। अब तक ठीक मरीजों की संख्या 339803 हो गई है।

सूबा रिकवरी दर में 81.2% के स्तर तक नीचे आ गया है। विभिन्न अस्पतालों में इलाज करवा रहे मरीज सूबे का सबसे बड़ा सिरदर्द बन गए हैं। वीरवार को यह आंकड़ा 75 हजार के पार हो गया। इस समय सबसे ज्यादा 11013 मरीज लुधियाना के अस्पतालों में भर्ती हैं। आलम यह है कि कुल भर्ती मरीजों का 50 फीसदी सिर्फ लुधियाना, जालंधर, मोहाली, पटियाला, अमृतसर व बठिंडा में ही है।

अब 1000 मौतें मात्र 7 दिन में, अब 1000 मौतें मात्र 7 दिन में

सीरम ने अगले हफ्ते तक 3.26 लाख डोज की पहली खेप पंजाब को देने के संकेत दिए
स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ सीरम की हुई मीटिंग के दौरान सीरम इंस्टीट्यूट की ओर से संकेत दिए गए हैं कि पंजाब को पहली खेप के रूप में 3.26 लाख डोज किसी भी हाल में 15 मई तक मुहैया करवा दी जाएगी। जिसके बाद पंजाब स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने 18 से 44 आयु वर्ग के लोगों को वैक्सीन लगाने को लेकर अपनी तैयारियां शुरू कर दी है।

हालांकि विभाग के अधिकारियों का कहना है कि सीरम की ओर से विभाग के अधिकारियों को अगले हफ्ते तक वैक्सीन की डोज मुहैया करवाने के लिए कहा गया है। फिर भी स्वास्थ्य विभाग यह मान कर चल रहे है कि उन्हें 15 मई तक ही वैक्सीन की डोज मुहैया हो सकेगी। उधर दूसरी ओर सीएम अमरिंदर सिंह ने केंद्र पर पंजाब से ऑक्सीजन सप्लाई को लेकर भेदभाव करने का आरोप लगाकर सांसदों से केंद्र पर दबाव बनाने की अपील की है।

50% मौतें इन जिलों में...
लुधियाना 1198
जालंधर 1134
अमृतसर 1057
पटियाला 858
होशियारपुर 767

खबरें और भी हैं...