वाहन मालिकों को मिलेगी राहत:31 मार्च 2020 तक खरीदे बीएस-4 वाहनों का रजिस्ट्रेशन होगा स्थायी

जालंधर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इस बाबत आरटीओ बरजिंदर सिंह का कहना है कि अभी तक काेई आदेश नहीं मिला है, सरकार का आदेश आते ही रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शुरू हाे जाएगी। - Dainik Bhaskar
इस बाबत आरटीओ बरजिंदर सिंह का कहना है कि अभी तक काेई आदेश नहीं मिला है, सरकार का आदेश आते ही रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शुरू हाे जाएगी।

पिछले साल राज्य में बीएस-4 वाहन खरीदने वालाें काे बड़ी राहत मिली है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि जो बीएस-4 व्हीकल 31 मार्च 2020 तक बिके हैं और उनकी फीस व टैक्स या टेंपरेरी रजिस्ट्रेशन प्रॉसेस पूरा हो चुका है उन वाहन के रजिस्ट्रेशन की सुविधा ओपन करो, काेर्ट के इस आदेश के बाद राज्य के करीब 50 हजार वाहन मालकों काे राहत मिलेगी।

सबसे अधिक वाहन लुधियाना में करीब 10 से 12 हजार के बीच हाेंगे, जबकि जालंधर में करीब 4 हजार हैं। राज्य सरकार के ट्रांसपाेर्ट डिपार्टमेंट ने 31 मार्च 2020 काे बीएस-4 के वाहनाें के रजिस्ट्रेशन बंद कर दिए थे, अब फिर से इनके रजिस्ट्रेशन हाे पाएंगे, क्याेंकि डिस्काउंट के चक्कर में कई ग्राहकों ने वाहन खरीद लिए थे। इस दाैरान कोर्ट ने कुछ दिनों की दी गई छूट को अचानक से वापस ले लिया था। अभी तक इन वाहनाें के रजिस्ट्रेशन तक नहीं हाे पाए हैं। लेकिन अब कोर्ट ने लाेगाें काे राहत देते हुए रजिस्ट्रेशन करने के आदेश किए हैं। इस बाबत आरटीओ बरजिंदर सिंह का कहना है कि अभी तक काेई आदेश नहीं मिला है, सरकार का आदेश आते ही रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शुरू हाे जाएगी।

ग्राहकों से रकम वसूल रहे एजेंट

काेर्ट के आदेश के बाद जिन ग्राहकों ने बीएस-4 वाहन खरीदे हैं, अब वे रजिस्ट्रेशन के लिए दलालों से संपर्क कर रहे हैं। दरअसल दलालों की तरफ से बैक डेट में रजिस्ट्रेशन करवाया जा रहा है। मगर वाहनाें के रजिस्ट्रेशन बंद किए जाने से दाेबारा रजिस्ट्रेशन हाेना संभव नहीं रहा है। इसके बावजूद एजेंट ग्राहकों से मोटी रकम वसूल रहे हैं।

टेंपरेरी नंबर पर हाे रहा खेल

बीएस-4 वाहनों की खरीदारी के लिए जो टेंपरेरी नंबर लिए गए थे, वाे कोर्ट के फैसले के बाद बदले जाएंगे। इसको लेकर एजेंटाे की तरफ से कई जिलों में सेटिंग शुरू हाे चुकी है।

खबरें और भी हैं...