जालंधर के फुटबाल चौक पर हादसा:तेज रफ्तार ट्रक ने मोटर साइकिल को मारी टक्कर, महिला को कुचल कर भागा

जालंधर3 महीने पहले
हादसे के बाद चिकचिक चौक पर जाम लगाकर धरना देते लोग।

पंजाब के जालंधर शहर में गुरुवार सुबह फुटबाल चौक पर चिकचिक हाउस की तरफ जाते मार्ग पर सड़क हादसा हो गया। तेज रफ्तार ट्रक ने मोटर साइकिल सवार परिवार को टक्कर मार दी। इसके बाद ट्रक चालक ने ब्रेक लगाने की बजाय सड़क पर गिरी बाइक सवार महिला को कुचल दिया।

इसके बाद ट्रक लेकर चालक फरार हो गया। महिला की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि इस हादसे में तीन लोग घायल हो गए है। हादसे के बाद गुस्साए लोगों ने चिकचिक चौक पर नारेबाजी करते हुए जाम लगा दिय़ा। वहीं हादसे की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची।

धरने के दौरान परिजनों से बातचीत करते पुलिस अधिकारी
धरने के दौरान परिजनों से बातचीत करते पुलिस अधिकारी

बस्ती शेख के न्यू संत नगर की रहने वाली महिला अपने बच्चे और सास-ससुर के साथ सुबह-सुबह आदर्श नगर स्थित पार्क में सैर करने के लिए आई हुई थी। सैर करने के बाद वे मोटर साइकिल पर लौट रहे थे। अभी वे चिकचिक चौक (फुटबाल चौक) पर ही पहुंचे थे कि एक तेज रफ्तार ट्रक ने उन्हें टक्कर दे मारी। टक्कर लगने के बाद चारों लोग सड़क पर गिर गए।

ट्रक चालक ने इमरजेंसी में ब्रेक लगाने की बजाय सड़क पर गिरी महिला के ऊपर से ट्रक निकाल दिया। महिला ट्रक के पहियों में फंस गई, लेकिन चालक ने ब्रेक नहीं लगाई। महिला को वह करीब 200 मीटर तक घसीटता ले गया। महिला के टुकड़े-टुकड़े हो गए और उसकी मौके पर ही मौत हो गई। इस हादसे में महिला की सास-ससुर औऱ तीन साल का बेटा घायल हो गए हैं।

हादसा चिकचिक चौक पर लोगों का हुजूम इकट्ठा हो गया। भीड़ का फायदा उठाकर चालक ट्रक लेकर मौके से फरार हो गया। लोगों ने घायलों को संभाला और हादसे की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में लिया। लोगों की मदद से घायलों को अस्पताल पहुंचाया। लेकिन हादसे के बाद से लोगों में रोष है। उन्होंने नारेबाजी करते हुए चौक पर जाम लगा दिया।

हादसे के वक्त मौके पर थी पुलिस, नहीं पकड़ा चालक

मृतक महिला के परिजनों व नजदीकियों ने चौक पर धरना रोष स्वरूप इसलिए लगाया कि हादसे के वक्त पुलिस मूक दर्शक बनी रही। परिजनों का कहना है कि जब हादसा हुआ उस वक्त मौके पर पुलिस कर्मचारी भी चौक पर मौजूद थे, लेकिन उन्होंने चालक को नहीं पकड़ा और उसे भाग जाने दिया।

परिजनों का कहना है कि पुलिस थोड़ी कोशिश करती तो ट्रक चालक को दबोचा जा सकता था। परिजनों व लोगों ने पुलिस की लापरवाही के खिलाफ चौक पर धरना लगा दिया। उन्होंने कहा कि जब तक ट्रक चालक गिरफ्तार नहीं होता, तब तक वह धरने से नहीं उठेंगे।