जालंधर की कालिया कॉलोनी में हंगामा:एक महिला पर लगा युवक की किडनैपिंग का आरोप, पुलिस के खिलाफ भी नारेबाजी

जालंधरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हंगामा करती कॉलोनी की महिलाएं, जिनका साथ पुरुषाें ने भी दिया। - Dainik Bhaskar
हंगामा करती कॉलोनी की महिलाएं, जिनका साथ पुरुषाें ने भी दिया।

पंजाब के जालंधर शहर की कालिया कॉलोनी में शनिवार रात को लोगों ने जमकर हंगामा किया। आरोप था कि कॉलोनी में एक महिला रहती है, जिसका आचरण ठीक नहीं है। उसने कुछ बाहरी लोगों की मदद से कॉलोनी के एक युवक को किडनैप करके रखा हुआ है। इस बात की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और युवक को आजाद करवाया, लेकिन लोग पुलिस वालों से भी उलझे औऱ पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की।

लोगों का आरोप है कि आरोपी महिला के पास बाहरी लोगों का आना-जाना लगा रहता है। वह कॉलोनी वासियों को डराती धमकाती भी है। इतना ही नहीं उसके घर के आगे से आने-जाने वालों को वह अश्लील गालियां भी निकालती रहती है। पहले महिला का प्रॉपर्टी को लेकर विवाद था, लेकिन पिछली रात महिला ने घर में बुलाए गए कुछ लोगों की मदद से एक युवक को घर के अंदर कैद कर लिया। इसी बात को लेकर उन्होंने हंगामा किया है।

युवक जिसे पुलिस वालों ने महिला के घर से छुड़ाकर बाहर निकाला।
युवक जिसे पुलिस वालों ने महिला के घर से छुड़ाकर बाहर निकाला।

लोगों ने पुलिस वालों से कहा कि वह महिला के खिलाफ कार्रवाई करे, लेकिन लोगों के साथ इसी दौरान पुलिस वालों की बहस हो गई। लोगों का कहना है कि पुलिस वालों ने उनकी शिकायत पर तो कोई कार्रवाई नहीं की, बल्कि उन्हें ही दबकाना शुरू कर दिया कि यदि ज्यादा हंगामा किया तो पर्चा दर्ज करके सभी को जेल में बंद कर देंगे। लोगों का कहना है कि यदि उन्हें इंसाफ नहीं मिला तो वह हाईवे जाम करेंगे।

मौके पर पहुंचे थाना नंबर एक के एसएचओ सुरजीत सिंह ने कहा कि जिस महिला पर लोग आरोप लगा रहे हैं, वह पुलिस कमिश्नर को शिकायत देकर आई है। दरअसल महिला का अपने मकान मालिक के साथ कोई डिस्प्यूट चल रहा है। महिला ने प्रॉपर्टी पर कोर्ट से स्टे ले रखा है। मकान मालिक यहां नहीं रहता है और कॉलोनी निवासी उसको स्पोर्ट कर रहे हैं। जहां तक युवक को किडनैप करने का सवाल है तो उसे वेरिफाई कर रहे हैं।

महिला की तरफ से भी शिकायत आई है कि उसके घर पर कुछ लोगों ने हमला किया था और उन्होंने एक युवक को पकड़ कर घर में बंद कर दिया था। जहां तक क्रॉस पर्चे का सवाल है तो शिकायत दोनों तरफ से आई है। यदि दोनों गलत होंगे तो पर्चा दर्ज किया जा सकता है। पुलिस एक तरफ कार्रवाई नहीं करती। एसएचओ ने कॉलोनी निवासियों को देर रात शांत करके घर भेजा और कहा कि आपको कार्रवाई निष्पक्ष देखने को मिलेगी।