पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जालंधर में 34 लाख का घोटाला:सहकारी सभा की DAP खाद, यूरिया और 8 किसानों से रिकवरी की रकम हड़प कर गया सेक्रेटरी

जालंधर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने आरोपी सेक्रेटरी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने आरोपी सेक्रेटरी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

जालंधर की गांव किल्ली सहकारी सभा में लाखों का घोटाला हुआ है। सभा के सेक्रेटरी ने DAP खाद व यूरिया की बिक्री के साथ किसानों से कर्जे की रकम भी डकार ली। मामले की पोल खुली तो उसे सस्पेंड कर दिया गया। जिसके बाद सहकारी सभा ने आरोपी सेक्रेटरी के खिलाफ केस दर्ज करने की सिफारिश कर दी।

सहकारी सभा के सहायक रजिस्ट्रार ने पुलिस को बताया कि द किल्ली कोआपरेटिव एग्रीकल्चरल मल्टीपर्पज सोसाइटी लिमिटेड में 19.90 लाख की खाद और 5.10 लाख रुपए का स्टॉक होना चाहिए था। जब इसकी जांच की गई तो सोसाइटी के सेक्रेटरी तरलोक मसीह ने कोई संतुष्टिजनक जवाब नहीं दिया। जिसके बाद उसे सस्पेंड कर दिया गया, फिर पुलिस को केस दर्ज करने के लिए पत्र भेजा गया।

पुलिस जांच में बढ़ा घपला, दर्ज हुआ केस

पुलिस जांच में पता चला कि सेक्रेटरी तरलोक मसीह ने मेंबर गुरदीप सिंह से 2.31 लाख, महिंदर सिंह से 3.13 लाख, चरन सिंह से 1.33 लाख, बलवीर सिंह से 2.15 लाख, हजूरा सिंह से 1.92 लाख, महिंदर सिंह से 1.06 लाख, जरनैल सिंह से 33 हजार, स्वर्ण सिंह से 1.10 लाख रुपए रिकवरी के ले लिए और सभा की रसीद भी दी लेकिन खाते में जमा नहीं कराए। इसी तरह 9.17 लाख के 764 बोरी DAP खाद व 2.94 लाख 1101 बोरी यूरिया, एग्रो कैमिकल के स्टॉक में 3.60 लाख व EC स्टॉक में 5.11 लाख की कमी पाई गई। पुलिस ने कुल घपला 34 लाख का बताया। जिसके बाद तरलोक मसीह के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है।

खबरें और भी हैं...