पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हरीश बने सेठ हुकुम चंद सोसायटी के प्रधान:सेठ हुकुम चंद सोसायटी ने बारिश में दरी पर बैठ महिलाओं को दिए 33 फीसदी पद

जालंधर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

सिटी की सबसे पाश इलाकों में शामिल सेठ हुकुम चंद कालोनी की वेलफेयर सोसायटी के चुनाव के लिए भारी बारिश के बीच कशमकश चलती रही। पूर्व विधायक केडी भंडारी का साथ मिलने से पार्क में दरी बिछाकर लोग बिना डरे बैठ गए। इसके बाद लगभग 190 घरों वाली कालोनी ने हरीश कालिया को प्रधान चुना। वहीं, लोगों का आरोप है कि सत्तापक्ष के प्रतिनिधि के इशारे पर थाना 1 की पुलिस ने चुनाव में दखल दिया। एक दिन पहले पुलिस ने चुनाव न करवाने की बात कही थी। अब सोसायटी पुलिस के उच्चाधिकारियों के पास पूरे मामले की कंप्लेंट करेगी।

रविवार सुबह से ही कालोनी वासी सोसायटी के गठन के लिए एकत्रित हो रहे थे। 33 फीसदी पद महिलाओं के लिए रखे गए। सर्वसहमति से उप प्रधान जसकरण सिंह, जनरल सेक्रेटरी डॉ. गुरिंदर पाल सिंह, कैशियर गुरिंदर पाल सिंह अनेजा, सेक्रेटरी (अकाउंट) डॉ. संजय बंसल को चुना गया। कार्यकारिणी मेंबर के पद महिलाओं को दिए गए। कालोनी वासियों ने हंसराज महिला कालेज की पूर्व प्रिंसिपल रेखा कालिया भारद्वाज, सुलेखा भगत,

सुखरात कौर, मधू सिक्का और प्रोमिला सहगल को कार्यकारिणी मेंबर की कमान सौंपी। कालोनी के बुजुर्गों ने 2010 में सिटी को हितों के लिए हाईकोर्ट में काला संघियां ड्रेन की गंदगी का मुद्दा रखा। इसके बाद नगर निगम ने 280 करोड़ की लागत से शहर में रिंग मेन सीवरेज लाइन डाली। इसके बाद पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड को नोडल एजेंसी बनाकर सरकार ने बस्ती पीरदाद, जैतेवाली व फोलड़ीवाल में में सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट बनवाए।

खबरें और भी हैं...