जालंधर में कोरोना का जानलेवा कहर:26 और 28 साल की दो गर्भवती समेत 7 ने दम तोड़ा, 479 पॉजिटिव मरीज मिले

जालंधर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कोविड की दूसरी लहर में यह पहली बार है, जब गर्भवती महिलाओं ने कोरोना से दम तोड़ा है। - Dainik Bhaskar
कोविड की दूसरी लहर में यह पहली बार है, जब गर्भवती महिलाओं ने कोरोना से दम तोड़ा है।

जालंधर में कोरोना का जानलेवा कहर बरकरार है। गुरुवार को कोरोना से 7 लोगों ने दम तोड़ दिया। सबसे दुखद यह है कि इनमें 26 और 28 साल की दो गर्भवती महिलाएं भी शामिल हैं। जिन्हें कोविड जैसे लक्षण के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था लेकिन गुरुवार को उनकी जान चली गई। वहीं, गुरुवार को 479 पॉजिटिव भी मिले हैं। बड़ी गिनती में संक्रमित मरीजों के साथ मौतों को देखते हुए यह स्पष्ट है कि जिले में अब कोरोना की दूसरी लहर बेहद खतरनाक रूप धारण कर चुकी है।

कन्फर्म मरीजों का आंकड़ा 42 हजार पार, अस्पताल में भर्ती मरीज 496 हुए

जिले में तेजी से फैलते कोराेना संक्रमण से कन्फर्म मरीजों का आंकड़ा 42 हजार के पार होकर 42,373 हो चुका है। इसके अलावा अब तक 1075 लोग कोरोना से दम ताेड़ चुके हैं। सबसे चिंता की बात यह है कि अस्पतालों में भर्ती होने वाले मरीजों की गिनती अब लगातार बढ़ती जा रही है। गुरुवार तक शहर के सरकारी, मिलिट्री व प्राइवेट अस्पतालों में भर्ती मरीज 496 हो चुके हैं। जिन्हें ऑक्सीजन या वैंटिलेटर के सपोर्ट पर रखा गया है। जिले में एक्टिव मरीजों की गिनती बढ़कर भी 4,252 हो चुकी है।

खबरें और भी हैं...