विवाद / परगट सिंह के खिलाफ दुकानदारों का प्रदर्शन, 9 अरेस्ट

विधायक परगट सिंह के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए दुकानदार। विधायक परगट सिंह के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए दुकानदार।
X
विधायक परगट सिंह के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए दुकानदार।विधायक परगट सिंह के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए दुकानदार।

  • दुकानदारों को वेंडिंग जोन में शिफ्ट करने को 3 दिन की दी थी मोहलत
  • हाईकोर्ट के आदेश के बावजूद नहीं हुई कार्रवाई

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

जालंधर. बस स्टैंड के बाहर गढ़ा रोड पर कब्जे वाली जगह पर बनी 72 दुकानों को नोटिस देने और 3 दिन में स्ट्रीट वेंडिंग जोन में शिफ्ट न होने पर कार्रवाई के खिलाफ दुकानदार गुस्से में हैं। मंगलवार को दुकानदारों ने बस स्टैंड के 6 नंबर गेट के बाहर धरना लगाया और विधायक परगट सिंह के खिलाफ नारेबाजी की। पुलिस ने धरना लगाने वाले 9 लोगों को सड़क जाम करने और सोशल डिस्टेंसिंग के उल्लंघन का पर्चा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया।

दुकानदारों ने आरोप लगाया कि विधायक ने उन्हें गालियां निकाली हैं। उन्होंने सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह से विधायक परगट को पार्टी से बाहर करने की मांग की। उन्होंने कहा कि सोमवार को उनकी मांग को सुनने के लिए मेयर जगदीश राजा ने उन्हें मेयर हाउस बुलाया था। वहां सांसद चौधरी संतोख सिंह और कमिश्नर करनेश शर्मा भी मौजूद थे।

दुकानदारों ने मांग रखी कि वो 50 साल से उसी जगह पर कारोबार कर अपना परिवार चला रहे हैं। इसलिए उन्हें नहीं उजाड़ा जाए। उन्होंने आरोप लगाया कि इस दौरान परगट सिंह ने उन्हें गाली दी और निकल जाने को कहा। इस मौके चंदन कुमार, मोहिंदर सिंह, हरि चंद, मोहित कुमार, लक्की, सावन कुमार, शंकर, बाल कृष्ण, बिनोद कुमार, राजू, लोकेश, विशाल मौजूद रहे।

केस हाईकोर्ट में है और कार्रवाई निगम ने करनी है : परगट सिंह

विधायक परगट सिंह का कहना है कि मेयर हाउस में उन्होंने कुछ गलत नहीं कहा, बल्कि दुकानदारों ने उनके साथ गलत बोला। वो तो मेयर के बुलावे पर दुकानदारों की बात सुनने आए थे। अन्यथा यह मसला हाईकोर्ट का है और कार्रवाई निगम ने करनी है। वे तीन साल से दुकानदारों की मदद ही करते आए हैं, लेकिन मेन रोड पर कब्जा है और कोर्ट का आदेश है। इसमें कोई क्या कर सकता है। उधर, चौकी इंचार्ज मेजर सिंह की शिकायत पर बस अड्डा के गेट नंबर-6 के बाहर सड़क पर धरना देकर सोशल डिस्टेंसिंग के उल्लंघन करने और सड़क पर जाम कर पब्लिक को तंग करने को लेकर आईपीसी की धारा 188,283,294,506 और  डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट की धारा 3 के तहत केस दर्ज किया गया है।  

पकड़े गए 9 लोगों में संत प्रेम सिंह नगर का चंदन कुमार उर्फ मागा, बेवस त्रेहन, अवतार नगर के सुरिंदर पाल व पारस, अलीपुर का अवतार सिंह, थिंद कॉलोनी का महिंदर सिंह, अर्बन एस्टेट-2 के हरीचंद्र, मखदूमपुरा का लक्की और ओंकार नगर के बाल किशन शामिल हैं।  इस संबंध में एसएचओ सुरजीत सिंह गिल ने कहा कि केस में लगाई गई धाराएं थाना स्तर पर जमानती हैं। इसलिए सभी को जमानत दे दी गई है। इंचार्ज मेजर सिंह ने कहा कि धरना देने वालों में कुछेक ने मास्क तक नहीं लगाया था। जाम में जब पब्लिक निकलने लगी तो उक्त लोग पब्लिक से ही उलझ गए और लोगों को जान से मारने तक की धमकी दे दी

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना