पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Sidhu Caught Bhagat Singh's Photo, Akali Dal's National Spokesperson Put Indira Gandhi's Photo On Facebook Instead, Congress Attacked

अकाली नेता चरणजीत बराड़ ने दी सफाई:फोटो एडिट करना गलत बात,मैंने फेसबुक से हटा दी है, कांग्रेस पर कसा तंज- इंदिरा गांधी की फोटो से कांग्रेसियों को एतराज क्यों हो रहा

जालंधर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कांग्रेस विधायक राजा वड़िंग ने अकाली नेता की शेयर व ओरिजनल फोटो फेसबुक पर डाली है। - Dainik Bhaskar
कांग्रेस विधायक राजा वड़िंग ने अकाली नेता की शेयर व ओरिजनल फोटो फेसबुक पर डाली है।

नवजोत सिद्धू के पंजाब में प्रदेश कांग्रेस प्रधान बनने के बाद कांग्रेस कैप्टन-सिद्धू खेमे में बंटी हुई है लेकिन विरोधी भी खूब निशाने साध रहे हैं। हालांकि इस चक्कर में शिरोमणि अकाली दल (SAD) के राष्ट्रीय प्रवक्ता चरणजीत सिंह बराड़ एक फोटो को लेकर घिर गए थे। दरअसल, उन्होंने जो फोटो फेसबुक पर शेयर की, वो सिद्धू के प्रधान बनने की औपचारिक घोषणा के बाद अमृतसर में स्वागत के वक्त की थी। इस फोटो में सिद्धू के हाथ में इंदिरा गांधी की फोटो दिख रही है। हालांकि कांग्रेस का कहना है कि ओरिजनल फोटो में सिद्धू ने शहीद-ए-आजम भगत सिंह की फोटो पकड़ी थी। इस मामले को दैनिक भास्कर ने गुरुवार सुबह प्रकाशित किया। जिसके बाद अकाली नेता बराड़ ने सफाई देते हुए कहा कि फोटो एडिट करना बुरी बात है। इसलिए उन्होंने उसे अपने फेसबुक पेज से हटा दिया है। हालांकि उन्होंने कांग्रेस पर तंज भी कसा है कि उन्हें सिद्धू के हाथ में इंदिरा की फोटो देखकर एतराज क्यों है?।

अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग।
अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग।

बराड़ को राजा वड़िंग ने दिया था जवाब

चरणजीत बराड़ ने अपने फेसबुक पेज पर जो तस्वीर पोस्ट की थी, उसमें नवजोत सिद्धू पर निशाना साधते हुए लिखा था कि 'बिक रहे हैं बाजारों में जमीर आजकल, कुर्सी ने लोगों को इतना खुदगर्ज बना दिया'। इसके बाद अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग ने बराड़ की पोस्ट व ओरिजनल फोटो शेयर करते हुए लिखा कि अकाली दल इतनी बौखलाहट है कि नवजोत सिद्धू की फोटो एडिट कर डालना गिरी हुई सोच दर्शाई जा रही है। विरोधी पार्टियों के पास विरोध करने के लिए कुछ नहीं रहा। अब वह घटिया किस्म की हरकतें कर रहे हैं, पर याद रखना कि पंजाब के लोग सब जानते हैं और अब अकाली दल को मुंह नहीं लगाएंगे।

चरणजीत सिंह बराड़
चरणजीत सिंह बराड़

सफाई के साथ निशाने भी साधे

बराड़ ने फेसबुक पर एडिट फोटो को हटाने के साथ लिखा कि कांग्रेसी इतना शोर क्यों मचा रहे हैं। जिन सोनिया गांधी, प्रियंका गांधी व राहुल गांधी ने सिद्धू को पंजाब में प्रदेश कांग्रेस का प्रधान बनाया है, वो इंदिरा गांधी के ही वारिस हैं। उसी परिवार की दी गई सरदारी में अगर ऐसी फोटो आ भी गई तो उसमें शोर मचाने की क्या जरूरत है। उन्होंने कांग्रेस को नसीहत दी कि हम पर गुस्सा न निकालो। नेहरू-गांधी परिवार ने सिखों, पंजाब व पंजाबियत के साथ क्या-क्या किया? यह इतिहास खुद बोल रहा है। उन्होंने शहीद भगत सिंह व गांधी परिवार की सोच को एक ही तकड़ी में न तोलने की नसीहत देते हुए कहा कि यह फैसला लोगों पर छोड़ दो और आने वाले समय का इंतजार करो।

पंजाब की राजनीति में इंदिरा गांधी इसलिए अहम

पंजाब की राजनीति में चुनाव के वक्त 1984 में हुए ऑपरेशन ब्लू स्टार को जरूर याद किया जाता है। ये वो दौर था, जब पंजाब में आतंकवाद चरम पर था और इंदिरा गांधी देश की प्रधानमंत्री थी। उनके कार्यकाल में ही अमृतसर में ऑपरेशन ब्लू स्टार को अंजाम दिया गया था। अकाली दल इस मुद्दे को उठाकर आरोप लगाते हैं कि इंदिरा गांधी ने ही सिखों के पवित्र स्थान श्री दरबार साहिब पर हमला करवाया था। कांग्रेसी अक्सर इस मुद्दे पर चर्चा से बचते रहते हैं। फिर भी पंजाब में यह मुद्दा कितना लोगों से जुड़ा है और कितना सियासी रह गया, इसका अंदाजा इस बात से लगा सकते हैं कि कांग्रेस इसके बाद पंजाब में कई बार सरकार बना चुकी है।

खबरें और भी हैं...