परिजनों का आरोप डाॅक्टर ने दवा की ओवरडोज दी:नाक का ऑपरेशन करवाने गईं सेंट सोल्जर स्कूल की टीचर की मौत

जालंधरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

पटेल चौक स्थित रंजीत अस्पताल में बस्ती शेख की रहने वाली 42 साल की अंजू की इलाज के दौरान मौत हो गई। परिजनों का आरोप है कि डॉक्टर ने ओवरडोज दी। पति जसविंदर शर्मा ने बताया कि पत्नी सेंट सोल्जर डिवाइन पब्लिक स्कूल में टीचर हैं। उनकी नाक की हड्डी बढ़ी हुई थी। ईएसआई अस्पताल डाॅ. सुचिना परमार ने उन्हें वहां भेजा था।

वे सुबह 10 बजे अस्पताल पहुंचे। 3 बजे बताया गया कि अंजू को ऑपरेशन से पहले अटैक आया है। वे आईसीयू में हैं। शाम 5 बजे बताया कि हार्ट अटैक से अंजू की मौत हो गई। मृतका की सास ने कहा कि बहू को सांस लेने में भी दिक्कत नहीं थी। उधर अस्पताल के डाॅ. एचजे सिंह ने कहा कि एनेस्थीसिया के समय हार्ट अटैक आ गया था।

रंजीत अस्पताल ले जाने को नहीं कहा था : डॉ. परमार
इस संबंध में डाॅ. सुचिना परमार ने कहा कि उन्होंने मरीज को ईएसआई के अधीन आने वाले अस्पताल में भेजा था। उन्होंने कहा कि आॅपरेशन के लिए जो सामान चाहिए था, वह सिविल अस्पताल में नहीं था। मरीज ने खुद ही सिविल में इलाज करवाने से मना किया था। इस दौरान वे सिविल अस्पताल और शाम को प्राइवेट अस्पताल में प्रेक्टिस करने के बारे जवाब नहीं दे पाईं।
उधर, देर रात दोनों पक्षों में समझौता हो गया।

खबरें और भी हैं...