• Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Jalandhar
  • Taksali Leader Sikandar Maluka Refuses To Contest The Election, Said The Party Did Not Discuss With Me, The Son Will Fight

अकाली दल के 3 नए उम्मीदवारों का ऐलान:मौड़ मंडी से टिकट के इच्छुक सिकंदर मलूका का रामपुरा फूल से चुनाव लड़ने से इनकार, बोले- पार्टी ने मुझसे चर्चा किए बगैर की घोषणा

जालंधर/बठिंडा10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सुखबीर बादल व सिकंदर सिंह मलूका की फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
सुखबीर बादल व सिकंदर सिंह मलूका की फाइल फोटो।

शिरोमणी अकाली दल ने रविवार को पंजाब विधानसभा चुनाव 2022 के लिए 3 नए उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया है। इसमें रामपुरा फूल से सिकंदर सिंह मलूका, बठिंडा देहाती से प्रकाश सिंह भट्‌टी व भुच्चो मंडी से दर्शन सिंह कोटफत्ता चुनाव लड़ेंगे। इसके बीच अहम बात यह है कि अकाली दल के टकसाली नेता सिकंदर सिंह मलूका ने रामपुरा फूल से चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया है। मलूका मौड़ मंडी से टिकट के इच्छुक थे। पिछले करीब एक साल से वो उस क्षेत्र में सक्रिय थे। हालांकि अकाली दल की तरफ से वहां से जगमीत बराड़ को टिकट देने की तैयारी कही जा रही है।

मलूका ने कहा कि टिकट देने से पहले पार्टी की तरफ से उनसे कोई चर्चा नहीं की गई। हालांकि मलूका ने उनको टिकट देने पर पार्टी प्रधान सुखबीर बादल व पूर्व सीएम प्रकाश सिंह बादल का धन्यवाद किया। मलूका ने कहा कि इस बार चुनाव उनका बेटा गुरप्रीत सिंह मलूका लड़ेंगे, वो लगातार विस क्षेत्र में काम कर रहे हैं। रामपुरा फूल क्षेत्र से कांग्रेस की तरफ से कैबिनेट मंत्री गुरप्रीत सिंह कांगड़ मौजूदा विधायक हैं।

पंजाब में दूसरी पार्टियों की चुनावी स्थिति

अकाली दल की तरफ से बसपा से गठजोड़ के बाद लगातार पार्टी उम्मीदवारों की घोषणा की जा रही है। यहां तक कि अकाली प्रधान सुखबीर बादल 100 दिन की पंजाब यात्रा भी शुरू कर चुके हैं। इसके उलट बाकी दलों में अभी विधानसभा चुनावों को लेकर कोई बड़ी हलचल नजर नहीं आ रही है। जानिए बाकी पार्टियों की क्या है स्थिति.....

  • कांग्रेस : कांग्रेस में उम्मीदवारों का ऐलान तो दूर, अभी तक मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह व पंजाब प्रधान नवजोत सिद्धू के खेमे में खानाजंगी चल रही है। सिद्धू खेमे के मंत्री कैप्टन को मुख्यमंत्री की कुर्सी से हटाने की मांग कर रहे हैं। हालांकि कांग्रेस हाईकमान ने इसे नकारते हुए कह दिया कि अगले विस चुनाव की अगुवाई कैप्टन ही करेंगे। वहीं, सिद्धू अब फैसले लेने की छूट न देने पर हाईकमान को ईंट से ईंट बजाने की चुनौती दे चुके हैं। कांग्रेस में अभी तक सिद्धू व कैप्टन ग्रुप की जंग जारी है।
  • आम आदमी पार्टी : आम आदमी पार्टी की तरफ से भी किसी उम्मीदवार की घोषणा नहीं की। उनकी सबसे बड़ी चिंता पंजाब में मुख्यमंत्री के चेहरे को लेकर है। अरविंद केजरीवाल कह चुके हैं कि पंजाब का CM चेहरा सिख समाज से होगा लेकिन अभी तक इसका खुलासा नहीं किया गया है। वहीं, पार्टी के सांसद व पंजाब प्रधान भगवंत मान भी इसको लेकर नाराज चल रहे हैं।
  • भाजपा : भारतीय जनता पार्टी की तरफ से अभी कोई चुनावी हलचल नहीं है। कृषि सुधार कानूनों की वजह से उन्हें पंजाब में किसानों का विरोध झेलना पड़ रहा है। उनकी बैठकें भी किसानों के विरोध के बीच हो रही हैं। भाजपा ने पंजाब में दलित सीएम बनाने की घोषणा की है लेकिन अभी तक किसी ऐसे बड़े चेहरे के बारे में कोई जानकारी सार्वजनिक नहीं की है।
खबरें और भी हैं...