पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

परिजनों ने सुबह 11 बजे हंगामा किया शुरू:मृत बच्चे का इलाज करने का आरोप लगा परिजनों ने अस्पताल के बाहर लगाया धरना

जालंधर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

श्री गुरु रविदास चौक स्थित बच्चों के अस्पताल में मंगलवार सुबह करीब 11 बजे परिजनों ने हंगामा करना शुरू कर दिया कि उनका बच्चा मर चुका है, लेकिन डाॅक्टर बिना इलाज के पैसे ले रहे हैं। शहर की एक संस्था के सदस्यों ने परिजनों के साथ अस्पताल के बाहर धरना लगा दिया। करीब आधा घंटा चले धरने के दौरान थाना-6 की पुलिस मौके पर पहुंच गई। बाद में पता लगा कि बच्चा ठीक है तो मामला शांत हो गया। बच्चे के पिता जगत

राम ने बताया कि उनके बेटे को सोमवार को बुखार हुआ था। तबीयत बिगड़ने के कारण वे उसे अंकुर अस्पताल ले गए, जहां बच्चे को वेंटीलेटर पर डाल दिया गया। तब बच्चा कोई हरकत नहीं कर रहा था और शरीर पीला पड़ चुका था। उन्होंने आरोप लगाया कि अस्पताल का स्टाफ उनसे 40 हजार रुपए जमा करवाने के लिए कह रहा था जबकि एक नर्स ने कहा था कि पैसे जमा न करवाने पर बच्चे को वेंटीलेटर से उतार दिया जाएगा। पुलिस के पहुंचने के बाद पता लगा कि बच्चा जिंदा है तो उसके बाद धरना खत्म कर दिया गया।

बच्चे के दिमाग में सूजन थी, इसलिए हरकत नहीं कर रहा था : डॉ. चौधरी
अंकुर अस्पताल के डॉ. गुरदेव चौधरी ने बताया कि बच्चे को अस्पताल में लाया गया तो बच्चे की स्थिति के बारे उसके चाचा और पिता को बता दिया गया था। बच्चे के दिमाग में सूजन थी, जिस कारण वह हरकत नहीं कर रहा था। ठीक होने में समय लगेगा। मामला शांत हो गया है।

खबरें और भी हैं...