सेहत विभाग ने लागू की नई व्यवस्था:कितने मरीज देखे, विभाग को बताना होगा; जहां डॉक्टर कम वहां होंगे शिफ्ट

जालंधर3 महीने पहलेलेखक: प्रभमीत सिंह
  • कॉपी लिंक
पंजाब में डॉक्टरों की स्थिति - Dainik Bhaskar
पंजाब में डॉक्टरों की स्थिति

डॉक्टरों की कमी खत्म करने को सेहत विभाग ने नई व्यवस्था लागू की है। जिसके तहत पोर्टल के जरिये डॉक्टर को बताना होगा कि दिन में कितने मरीजों का इलाज व कितने मरीज भर्ती किए हैं। इसी आधार पर महीने के अंत में अब डॉक्टर की परफॉर्मेंस रिपोर्ट का रिव्यू हेल्थ सेक्रेटरी स्तर के अधिकारियों की ओर से किया जाएगा।

कम मरीजों वाले डॉक्टर की पोस्टिंग भी अन्य हेल्थ सेंटर में शिफ्ट की जाएंगी। हेल्थ सेक्रेटरी अजॉय शर्मा ने बताया, कई बड़े अस्पतालों में स्पेशलिस्ट डॉक्टर भी क्लेरिकल कार्यों में व्यस्त हैं, उनकी रिपोर्ट जीरो हो रही है। विभाग में मेडिकल ऑफिसर और स्पेशलिस्ट डॉक्टरों के 950 पद खाली हैं, जिन्हें पूरा करने का कोई प्लान नहीं है। इसीलिए परफार्मेंस को आधार बनाया गया है।

जहां डॉक्टर नहीं वहां कर रहे तैनात

सेहत विभाग प्राथमिकता पर अपने सेंटरों का रिव्यू कर रहा है और जिन एरिया में डॉक्टर नहीं हैं, वहां डॉक्टर तैनात किए जा रहे हैं, ताकि मरीजों को किसी भी प्रकार की असुविधा का सामना न करना पड़े और सरकार की सभी सुविधाओं का लाभ लोगों को मिले।
- डॉ. रणजीत सिंह, पीएचएससी डायरेक्टर